ताज़ा खबर
 

ससुरा बड़ा पइसावाला: मनोज तिवारी की इस गलती पर रानी चटर्जी ने लगा दी फटकार, ऐसे बनी बात

ससुरा बड़ा पइसावाला रानी चटर्जी और मनोज तिवारी की साथ में पहली भोजपुरी फिल्म थी। फिल्म की लागत सिर्फ 30 लाख थी लेकिन इसने बॉक्स ऑफिस पर 9 करोड़ से उपर का बिजनेस किया था।

mastram rani chatterjee, Manoj Tiwari, Sasura Bada Paisewala,रानी चटर्जी ने मनोज तिवारी के साथ भोजपुरी फिल्म ससुरा बड़ा पइसावाला से करियर की शुरुआत की थी।

साल 2004 में मनोज तिवारी के साथ भोजपुरी फिल्म ससुरा बड़ा पइसावाला से करियर की शुरुआत करने वाली एक्ट्रेस रानी चटर्जी की आज पहचान भोजपुरी क्वीन के तौर पर होती है। पहली ही फिल्म से स्टार बनने वाली रानी तब 10वीं क्लास में पढ़ती थीं। वह बताती हैं कि उस वक्त उनमें अल्हड़पन था और इसी कारण वह मनोज तिवारी पर गुस्सा भी हो गई थीं। रानी उन दिनों को याद करते हुए कहा था कि ससुरा बड़ा पइसावाला ने मेरी लाइफ बदल दी। उसका रिकॉर्ड आज तक किसी ने नहीं तोड़ पाया है।

रानी फिल्म से जुड़ी यादों को शेयर करते हुए कहा था कि ससुरा बड़ा पइसावाला फिल्म के लिए हीरोइन नहीं मिल रही थी। उन्होंने कहा कि केके गोस्वामी जो मेरे फैमिली मेंबर जैसे थे, बचपन में शूटिंग देखने जाती थी तो उनसे मिलती रहती थी। उनको लगा कि फिल्म में सहेली का रोल दिलवा देते हैं। बहुत खुश हो जाएगी। रानी चटर्जी बताती हैं कि तब वह दसवीं क्लास में पढ़ती थीं। उनकी मां को उन्होंने अभय सिन्हा (फिल्म के निर्देशक) से मिलवाया। इसके बाद रानी अभय सिन्हा से मिलीं। परिवार में सबको यही लग रहा था कि फिल्म में वह सहेली का रोल करने वाली हैं। रानी ने बताया कि अभय सिन्हा ने देखा तो उन्होंने कहा कि मैं आपको रिहर्सल पर बुलाऊंगा।

रानी चटर्जी ने बताया था कि जब फिल्म के रिहर्सल पर पहुंचीं तो वहां फिल्म की यूनिट के साथ परिवार के लोग भी थे। फिल्म का ही एक गाना- जान से बढ़के हम तोहरा के चाही ले… पर एक्ट करना था। रानी कहती हैं कि एक्ट के दौरान कभी कोई हाथ पकड़ रहा तो कभी कमर में हाथ डाल रहे। मैं घबरा गई। ऐसा कभी मैंने अनुभव नहीं किया था। असहज देखकर अभय सिन्हा रानी के पास आए और समझाए। इसके बाद मनोज तिवारी के साथ रिहर्सल शुरू हुआ। इसी दौरान मनोज तिवारी ने रानी का हाथ नहीं पकड़ा और वह गिर गईं। वहां मौजूद सभी लोग रानी पर हंसने लगे।

इस माहौल को देख रानी काफी नाराज हो गईं। मनोज तिवारी ने भी कहा कि अरे आप तो गिर गईं। गुस्से में रानी उठीं और मनोज तिवारी पर भड़कते हुए कहा, पकड़ नहीं सकते थे आप मुझे। रानी कहती हैं कि तब रिएक्ट करते हुए मनोज तिवारी ने कहा कि क्या अजीब लड़की है। कैसे बात करती है। रानी गुस्से में वहां से चली गईं। मनोज तिवारी भी गुस्सा हो गए। मामले को देखते हुए फिर कोरियोग्राफर सहित निर्देशक मनोज तिवारी के पास गए और बोले-वह अभी बच्ची है। 10 वीं पढ़ती है। तब जाकर मनोज तिवारी मानें। और रानी को बुलाकर पूछे- तुम अभी दसवीं में पढ़ती हो। रानी ने बताया कि उसके बाद वह बच्चों की तरह ट्रीट करने लगे।

गौरतलब है कि ससुरा बड़ा पइसावाला रानी चटर्जी और मनोज तिवारी की साथ में पहली भोजपुरी फिल्म थी। फिल्म की लागत सिर्फ 30 लाख थी लेकिन इसने बॉक्स ऑफिस पर 9 करोड़ से उपर का बिजनेस किया था। इसके बाद कई भोजपुरी सिंगर फिल्म बनाने में जुट गए। फिल्म को लाल सिन्हा ने निर्देशित किया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शादी के लिए खेसारी लाल के ससुर को बेचनी पड़ी थीं भैंसे, सूट सिलवाने तक के नहीं थे पैसे
2 लालू की ‘गरीब रथ’ नौटंकी, रामविलास ने भी पूरी नहीं की आस- जब छैला बिहारी ने इस गाने से कसा था तंज
3 शादी से पहले इस वजह से पत्नी का टूट गया था पहला रिश्ता, निरहुआ ने ससुराल से जुड़ा सुनाया था किस्सा
IPL 2020
X