ताज़ा खबर
 

मतलब, मोहब्बत और मर्डर का कॉकटेल है स्ट्रगलिंग एक्ट्रेस Maria Susairaj की कहानी

दक्षिण भारतीय फिल्मों में छोटे रोल करने वाली मारिया मुंबई में टीवी इंडस्ट्री में पैर जमाने की कोशिश कर रही थी। नीरज ग्रोवर इसी काम में मदद करता था। इसी दौरान मारिया को फील हुआ कि नीरज उसे पसंद करता है। दोनों एक दूसरे के ज्यादा करीब आ गए।

फिल्म अभिनेत्री मारिया सुसीराज। (फोटो सोर्स-इंडियन एक्सप्रेस)

Neeraj Grover Murder:  साल 2008 में नीरज ग्रोवर हत्याकांड से बॉलीवुड में सनसनी फैल गई थी। इस हत्याकांड के पीछे कन्नड़ फिल्म अभिनेत्री मारिया सुसीराज और उनके मंगेतर एमएल जेरोम का नाम जुड़ा था। दोनों ने मिलकर लाश के 300 टुकड़े करके आग के हवाले कर दिया था। दरअसल कहानी कुछ यूं शुरू होती है कि दक्षिण भारतीय फिल्मों में छोटे रोल करने वाली मारिया मुंबई में टीवी इंडस्ट्री में पैर जमाने की कोशिश कर रही थी। इस दौरान एक प्रोडक्शन हाउस में मीडिया एग्जीक्यूटिव का काम कर रहे नीरज ग्रोवर मारिया की मदद करता था। काम के दौरान ही दोनों एक दूसरे के ज्यादा करीब आ गए। दोनों का एक-दूसरे के घर आना-जाना भी होने लगा था। मारिया कुछ दिन नीरज के अपार्टमेंट में उसके साथ भी रही थीं। 6 मई 2008 को मारिया मलाड में अपने नए अपार्टमेंट में शिफ्ट हो रहीं थीं। नीरज इस काम में मारिया की मदद कर रहा था। नीरज एक दिन मारिया के घर गया। इसके बाद से उसका कुछ पता नहीं चला।

 

बात पुलिस तक पहुंची तो मारिया से पूछताछ होने लगी। 10 दिन के बाद पुलिस के लागातार पूछताछ से वह टूट गई। फिर सारा सच पुलिस के सामने उगल दिया। पुलिस खुलासे से पता चला था कि, मंगेतर जेरोम एक दिन अचानक मारिया के नए घर पहुंचा गया। बेडरूम में नीरजर और मारिया को एक साथ देखकर वह गुस्से पर काबू नहीं कर पाया। इसके बाद नीरज और जेरोम में काफी मारपीट हुई। जेरोम ने नीरज पर चाकू से कई वार कर दिए जिससे उसकी मौत हो गई। उसके बाद आप जेरोम के अगले कदम से खौफ खा जाएंगे कि उसने नीरज की लाश के 300 टुकड़े किए और लाश के सामने ही दोनों ने संबंध भी बनाए। फिर नीरज की लाश को जंगल में लेजाकर आग के हवाले कर दिया।

(और ENTETAINMENT NEWS पढ़ें)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App