ताज़ा खबर
 

पैसे नहीं चाहिए लेकिन ऐसी फिल्में मत करो- जब मनोज बाजपेई की फिल्म देख लड़कियां ने किए भद्दे कमेंट्स, बोल पड़ी थीं पत्नी

मनोज बाजपेई के पास पैसों की कमी थी इस कारण उन्होंने खराब दर्जे की फिल्में भी कर ली। लेकिन एक बार ऐसी घटना हुई कि उन्होंने ऐसी फिल्मों को हमेशा के लिए ना कह दिया और फिल्मों का चुनाव अच्छी कहानी के आधार पर करने लगे थे।

मनोज बाजपेई की हालिया वेब सीरीज The Family Man 2 काफी चर्चा में रही है (File Photo)

डिजिटल प्लेटफॉर्म और बॉलीवुड के जाने-माने अभिनेता मनोज बाजपेई को एक ऐसे दौर से भी गुजरना पड़ा था जब उनके पास बिल्कुल ही फिल्में नहीं थी। कुछ फिल्में मिली भी तो बेहद ही खराब दर्जे की। उन दिनों मनोज बाजपेई के पास पैसों की कमी थी इस कारण उन्होंने गुजारा करने के लिए खराब दर्जे की फिल्में भी कर ली। लेकिन एक बार ऐसी घटना हुई कि उन्होंने ऐसी फिल्मों को हमेशा के लिए ना कह दिया और फिल्मों का चुनाव अच्छी कहानी के आधार पर करने लगे थे।

हुआ ये कि उनकी पत्नी नेहा बाजपेई उनकी फिल्म देखने सिनेमाघर में गईं थीं। सिनेमा घर में उनके पीछे बैठीं कुछ लड़कियों ने जब जाना कि वो मनोज बाजपेई की पत्नी हैं तो उन्होंने फिल्म को लेकर भद्दे कमेंट्स करने शुरू कर दिए। नेहा इस बात से काफी अपमानित महसूस करने लगी थीं।

मनोज बाजपेई ने इस किस्से का जिक्र द लल्लनटॉप पर किया था। उन्होंने बताया था, ‘मेरी एक फ़िल्म थी जिसे वो देखने गईं थीं। उस हॉल में बस तीन लोग बैठे थे। उनको बहुत बुरा लगा था कि पहली बार हॉल में सिर्फ तीन लोग बैठे हैं। वो तीनों लोग उनके पीछे ही बैठे थे। बहुत ही बुरी फ़िल्म..मेरे जीवन की बुरी फिल्मों में से एक है। लेकिन जब आप फिल्में करते हैं तो आपका उस पर बस नहीं होता, बुरी बन रही है तो बन रही है फ़िल्म।’

उन्होंने आगे बताया था, ‘मेरी पत्नी ने मुझे फोन कर कहा कि मनोज फिल्म भी बुरी थी और जो तीनों लड़कियां पीछे बैठी थीं.. उनको पता था कि मैं बैठी हूं आगे तो अपने सारे कमेंट्स वो बहुत ज़ोर से बोल रही थीं ताकि मुझे वो सुनाई दे। बहुत शर्मिंदगी भरा था वो। इसलिए मेरी तुमसे एक ही गुजारिश है कि पैसे के लिए काम मत करो तुम। नहीं होगा तो हम कुछ और कर लेंगे लेकिन ये नहीं।’ मनोज बाजपेई ने पत्नी की यह बात सुन फैसला कर लिया था कि अब वो ऐसी फिल्में कभी नहीं करेंगे।

 

मनोज बाजपेई के पास जब अच्छी फिल्में नहीं थी तब उन्होंने निर्देशकों को फोन कर काम मांगना शुरू किया था। इसी दौरान उनके अच्छे दोस्त रहे अनुराग कश्यप से उनकी दुश्मनी भी खत्म हो गई थी। अनुराग कश्यप ने किसी से सुन लिया था कि मनोज बाजपेई उनके खिलाफ हैं, उनके दोस्त नहीं और इसी बात को लेकर उन्होंने मनोज बाजपेई से बातचीत बंद कर दी थी।

 

दोनों की यह लड़ाई 11 सालों तक चली और जब मनोज बाजपेई ने उनकी फिल्म ‘देव डी’ देखी तो वो खुद को रोक नहीं पाए। उनके पास काम भी नहीं था। उन्होंने अनुराग कश्यप को फोन कर फ़िल्म की तारीफ की। कुछ समय बाद अनुराग कश्यप ने उन्हें अपनी एक फिल्म में साइन कर लिया था।

Next Stories
1 इनका इलाज अब देश की जनता ही कर सकती है- कोविड वैक्सीन विवाद को लेकर विपक्षी पार्टियों पर भड़के मनोज तिवारी
2 जब सैफ अली खान पर फीमेल फैन के बॉयफ्रेंड ने किया था हमला, चेहरा खराब करने की दी थी धमकी- जानें क्या था माजरा
3 अपनी फिल्मों में किसी एक्टर को विलेन नहीं रखते थे यश चोपड़ा, पूछने पर बताई थी ये वजह
यह पढ़ा क्या?
X