X

Manmarziyaan: अभिषेक को पगड़ी पहने देख अमिताभ को आ गई थी मां की याद, जूनियर बी ने सुनाया किस्सा

Abhishek Bachchan, Manmarziyaan Movie: अनुराग कश्यप द्वारा निर्देशित इस फिल्म में अभिषेक बच्चन पग बांधे नजर आ रहे हैं। अभिषेक इस फिल्म में एक सिख लड़के की भूमिका में हैं। यह पहली बार नहीं है जब अभिषेक बच्चन इस खास अवतार में नजर आ रहे हों।

बॉलीवुड स्टार अभिषेक बच्चन दो साल बाद फिल्म ‘मनमर्जियां’ के जरिए कमबैक कर रहे हैं। फिल्म में अभिषेक के साथ तापसी पन्नू और विक्की कौशल भी हैं। अनुराग कश्यप द्वारा निर्देशित इस फिल्म में अभिषेक बच्चन पग बांधे नजर आ रहे हैं। अभिषेक इस फिल्म में एक सिख लड़के की भूमिका में हैं। यह पहली बार नहीं है जब अभिषेक बच्चन इस खास अवतार में नजर आ रहे हों। इससे पहले भी अभिषेक फिल्म ‘बंटी और बबली’ में पग बांधे नजर आए थे। फिल्मों में पग बांध कर शूट करने को लेकर अभिषेक बच्चन एक किस्सा बताते हैं कि जब पहली बार उनके पिता अमिताभ बच्चन ने उन्हें पग पहने देखा था तो उन्होंने क्या कहा था। आइए अभिषेक से ही जानते हैं…

रचना: फिल्म ‘मनमर्जियां’ में आप सिख बने हैं-टर्बन पहने नजर आ रहे हैं। जब भी इसे पहनते हैं तो कैसा फील करते हैं?

अभिषेक बच्चन: सिर पर पग पहन कर मैं बहुत ही गर्व महसूस करता हूं। इससे पहले भी मैं फिल्म ‘बंटी और बबली’ में एक सीन के लिए टर्बन पहन चुका हूं। मेरी दादी मां एक सिखणी थीं। तो पहली बार जब इस गेटअप में मेरी तस्वीर निकली थी तो मैंने वह तस्वीर अपने पिताजी को भेजी थी। उस वक्त जब उन्होंने मुझे ऐसे देखा तो उन्हें बहुत अच्छा लगा। तब उन्होंने मुझे लिखा था कि आपकी दादी जहां भी हैं आज बहुत खुश होंगी।

तापसी पन्नू से खास बातचीत: ‘मनमर्जियां’ करती ‘रूमी’ हो या तापसी, दोनों ड्रामाफुल हैं

रचना: फिल्म में आप तापसी और विक्की संग पहली बार काम कर रहे हैं। दोनों नए एक्टर्स हैं कैसा लगा इनके साथ काम कर के?

अभिषेक बच्चन: तापसी पन्नू और विक्की कौशल के साथ मैंने पहली बार काम किया। दोनों के साथ काम करके मुझे बहुत अच्छा लगा। दोनों एक्टर्स ही बहुत रीफ्रेशिंग और अन-प्रिडिक्टेबल एक्टर्स हैं। उनमें ऐसी कोई चीज नहीं है जो आपने शायद पहले कभी देखी हो। ये उनकी खुद की परफॉर्मेंस हैं। अगर आप विक्की को ही देखें तो साल की शुरुवात में ही उसने बेहतरीन फिल्में दीं। विक्की ने ‘संजू’ और फिर ‘राजी’ जैसी फिल्मों में काम किया। अब ‘मनमर्जियां’ आ रही है। इनके काम में बहुत वैराइटी है।

रचना: सोशल मीडिया का जमाना है, वहीं सेलेब्स को ट्रोल किए बगैर ट्रोल्स को चैन नहीं मिलता। ऐसे में आप ऐसी परिस्थितियों को कैसे कंट्रोल करते हैं?

अभिषेक बच्चन: मैं इस बारे में ज्यादा सोचता नहीं हूं। ऐसे मामलों में ज्यादा सोचना भी नहीं चाहिए। मैं मूवऑन होना ज्यादा पसंद करता हूं।

रचना: इन दिनों सोशल मीडिया पर आए दिन स्टार किड्स की तस्वीरें खूब शेयर की जाती हैं। ऐसे में इस चकाचौंध से बेटी अराध्या को दूर रखने के लिए क्या एहतियात बरतते हैं।?

अभिषेक बच्चन: हम ये नहीं करते, बाकि औरों के बारे में मैं कुछ नहीं कह सकता। ऐश्वर्या और मैं यही चाहेंगे कि अराध्या एक बहुत ही नॉर्मल लाइफ जिए। उसका बचपन जितना हो सके उतना साधारण हो, हम तो यही चाहेंगे।


रचना: मनमर्जियां के अलावा आने वाले प्रोजेक्ट्स के बारे में कुछ बताएं। ऐश्वर्या राय बच्चन के साथ आपकी ‘गुलाबजामुन’ आ रही है?

अभिषेक बच्चन: ‘गुलाब जामुन’ एक बहुत ही खूबसूरत स्क्रिप्ट है जो कि सर्वेश मेवारा की लिखी है। एक साल पहले वह ऐश्वर्या और मेरे पास आए थे। तब हम इस फिल्म के लिए राजी हो गए थे। फिलहाल फिल्म कब करेंगे इस बारे में कुछ तय नहीं हुआ है। लेकिन ये फिल्म हम जरूर करना चाहेंगे।

रचना:आपने ‘दोस्ताना’ जैसी बेहतरीन फिल्म में काम किया। हाल ही में सुप्रीम कोर्ट का भी धारा 377 पर एक अहम फैसला आया है। इस पर आपके क्या विचार हैं?

अभिषेक बच्चन: मैंने हमेशा यह कहा है और माना भी है कि कभी किसी और को यह तय नहीं करना चाहिए कि आप किससे प्यार कर सकते हैं और कैसे प्यार कर सकते हैं।

  • Tags: manmarziyaan,