scorecardresearch

Gandhi Godse: राजकुमार संतोषी पर भड़के महात्मा गांधी के परपोते तुषार, बोले- हत्यारे गोडसे को हीरो बनाया जा रहा…

राजकुमार संतोषी (Rajkumar Santoshi) की फिल्म ‘गांधी गोडसे-एक युद्ध’ का जिक्र करते हुए बापू के परपोते ने कहा कि वह इस तरह की फिल्म नहीं देखेंगे।

Gandhi Godse: राजकुमार संतोषी पर भड़के महात्मा गांधी के परपोते तुषार, बोले- हत्यारे गोडसे को हीरो बनाया जा रहा…
Gandhi Godse- Ek Yudh का दमदार ट्रेलर रिलीज हो चुका है।

Tushar Gandhi On Gandhi Godse Ek Yudh: मशहूर फिल्ममेकर राजकुमार संतोषी (Rajkumar Santoshi) की अपकमिंग फिल्म ‘गांधी गोडसे एक युद्ध'(Gandhi Godse Ek Yudh) का ट्रेलर हाल ही में रिलीज किया गया था। फिल्म का ट्रेलर सामने आने के बाद इस पर विवाद शुरू हो गया है। मध्य प्रदेश में फिल्म को बैन लगाने की मांग की जा रही हैं।

इसी बीच अब महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के परपोते तुषार गांधी (Tushar Gandhi) की प्रतिक्रिया सामने आई है। फिल्म के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा है कि वह इस तरह की फिल्म से बिल्कुल भी सरप्राइज नहीं हैं। जिस फिल्म में हत्यारे को हीरो बनाया जा रहा है। ऐसी फिल्म देखने का उनका कोई इरादा नहीं है।

महात्मा गांधी के परपोते ने क्या कहा

महात्मा गांधी के परपोते ने फिल्म के बारे में एएनआई से कहा कि ‘मुझे इस फिल्म का ट्रेलर देखकर कोई आश्चर्य नहीं हुआ है क्योंकि उनके लिए गोडसे एक हीरो है और यदि वो उसे एक हीरो के रूप में दिखाते हैं, तो इससे हममें से किसी को आश्चर्य नहीं होना चाहिए। लेकिन मैं फिल्म के ट्रेलर की खूबियों या खामियों पर टिप्पणी नहीं कर सकता क्योंकि मैंने इसे नहीं देखा है और मैं इस तरह की फिल्मों को देखने का इरादा नहीं रखता जो हत्यारों का महिमामंडन करती है।’

यह एक सोचा समझा प्लान है- तुषार

उन्होंने आगे कहा कि ‘यह एक बहुत अच्छा सोचा समझा प्लान है। सभी कैरेक्टर्स को रोल दिए गए हैं और अपनी बारी आने पर वो इसे दिखा रहे हैं। राजकुमार संतोषी ने अपनी फिल्म भगत सिंह में भी बापू को बहुत गलत तरीके से दिखाया था। इसलिए यह कोई आश्चर्य की बात नहीं हैं। उन्होंने गोडसे को ग्लोरिफाई करने के लिए यह फिल्म बनाई है।’

कब रिलीज होगी फिल्म

बता दें कि राजकुमार संतोषी की फिल्म 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर रिलीज़ होगी। इस फिल्म का संगीत एआर रहमान का है। फिल्म का ट्रेलर रिलीज किया जा चुका है। ट्रेलर में काल्पनिक कहानी के जरिए गांधी और गोडसे के विचारों के बीच छिड़ी जंग को दिखाया गया है। यह फिल्म 1947-48 के आस पास की कहानी पर आधारित है।

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 17-01-2023 at 04:25:16 pm
अपडेट