ताज़ा खबर
 

टैक्स चोरी मामले में गायक एआर रहमान को मद्रास हाईकोर्ट से नोटिस

एआर रहमान ने टैक्स से बचने के लिए कथित तौर पर 3 करोड़ रुपए से अधिक की आय अपने धर्मार्थ ट्रस्ट 'एआर रहमान फाउंडेशन' के माध्यम से अर्जित की।

गायक-संगीतकार एआर रहमान।

मद्रास उच्च न्यायालय ने गायक-संगीतकार एआर रहमान को उनके खिलाफ आयकर विभाग की एक याचिका पर नोटिस जारी किया है। रहमान ने कथित तौर पर टैक्स से बचने के लिए अपने धर्मार्थ ट्रस्ट एआर रहमान फाउंडेशन के माध्यम से 3 करोड़ रुपए से अधिक की आय अर्जित की।

आयकर विभाग के वरिष्ठ स्थायी वकील टी आर सेंथिल कुमार के अनुसार यूनाईटेड किंगडम (UK) की एक दूरसंचार कंपनी के लिए विशेष रिंगटोन बनाने पर ऑस्कर विजेता गायक-संगीतकार को वित्तीय वर्ष 2011-12 में 3.47 करोड़ रुपए की आय हुई। अनुबंध तीन साल तक चला। रहमान ने कंपनी को सीधे अपने धर्मार्थ ट्रस्ट एआर रहमान फाउंडेशन के खाते में भुगतान करने के लिए कहा।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट में आईटी विभाग के वकील के हवाले से बताया गया है, “ रहमान को टैक्स योग्य आय को प्राप्त करना चाहिए। टैक्स की कटौती के बाद, इसे ट्रस्ट में स्थानांतरित किया जा सकता है। लेकिन इसे ट्रस्ट के माध्यम से रूट नहीं किया जा सकता है, क्योंकि चैरिटेबल ट्रस्ट की आय पर आयकर अधिनियम के तहत छूट दी गई है।”

Next Stories
1 जब बाल ठाकरे की फोटो कुर्सी पर रख उद्धव ने दिया था अर्नब गोस्वामी को इंटरव्यू, वजह भी बताई थी
2 राणा दग्गुबाती से लेकर पूजा बनर्जी तक, कोरोना काल में इन सेलेब्स ने की शादी
3 Gandii Baat वेब सीरीज देखकर ऐसा था घरवालों का रिएक्शन, Anveshi Jain ने शेयर किया किस्सा
यह पढ़ा क्या?
X