ताज़ा खबर
 

सायरा बानो की लव स्‍टोरी: द‍िल तो राजेंद्र कुमार पर आया था, दोगुनी उम्र के द‍िलीप कुमार से ऐसे हुई शादी

इन सब के बीच एक वो दौर भी आया जब शादीशुदा राजेंद्र कुमार चुलबुली और बला की खूबसूरत शायरा बानो को अपना दिल दे बैठे। कहा जाता है कि सायरा बानो और राजेंद्र कुमार के अफेयर के किस्सों से सायरा बानो के घरवाले नाराज थे।

अभिनेता दिलीप कुमार और अभिनेत्री सायरा बानो फोटो सोर्स -(Express archive)

सायरा बानो की लव स्‍टोरी: ‘तुम्हें और क्या दूं मैं दिल के सिवा’। यह मशहूर गाना साल 1964 में रिलीज हुई फिल्म ‘आई मिलन की बेला’ का है। फिल्माये गये गीत में खूबसूरत अभिनेत्री सायरा बानो और हैंडसम हंक राजेंद्र कुमार की जोड़ी उस वक्त सबकी आंखों में रच बस गई थी। कहा जाता है कि यह वही फिल्म है जहां से शुरू हुई सायरा बानो और राजेंद्र कुमार की लव स्टोरी। हालांकि उस वक्त के मशहूर जुबली स्टार राजेंद्र कुमार पहले से ही शादीशुदा थे। इसके बाद इस जोड़ी की 1968 में आई फिल्म ‘झुक गया आसमान’ बड़ी हिट साबित हुई। इस फिल्म का भी एक गाना ‘कौन है जो सपनों में आया’ काफी हिट हुआ था और इस गाने के सुपरहिट होने के बाद लोग यह समझने लगे कि राजेंद्र कुमार के सपने में कोई और नहीं बल्कि सायरा बानो ही हैं। लेकिन अभी लोगों के इस सपने का टूटना बाकी था क्योंकि सायरा बानो की असली लव स्टोरी तो दिलीप कुमार के साथ लिखी जानी थी।

फिल्मी दुनिया में आने से पहले ही सायरा बानो दिलीप कुमार पर फिदा हो गई थीं। यह किस्सा है साल 1960 का जब दिलीप कुमार और मधुबाला की फिल्म मुगल-ए-आजम रिलीज हुई थी। लंदन में पढ़ी – लिखी 16 साल की सायरा बानो ने जब इस फिल्म का प्रीमियर देखा तो उनके सपनों के राजकुमार बन गए दिलीप कुमार। कहा जाता है कि प्रीमियर के वक्त सायरा बानो दिलीप कुमार से मिलने का ख्वाब भी संजोए बैठी थीं लेकिन दिलीप कुमार प्रीमियर में पहुंचे ही नहीं। ‘शाहजादा सलीम’ की भूमिका निभाने के बाद फिल्म इंडस्ट्री में दिलीप कुमार सफलता के शिखर पर जा पहुंचे थे। उस वक्त की बेहद सफल और चुलबुली अभिनेत्री मधुबाला के साथ दिलीप कुमार के लव अफेयर के चर्चे भी दूर-दूर तक थे। हालांकि यह रिश्ता ज्यादा दूर तक नहीं चला और जल्द ही उनका ब्रेक अप हो गया।

‘मुगल-ए-आजम’ रिलीज होने के एक साल बाद सायरा बानो ने फिल्म इंडस्ट्री में अभिनेता शम्मी कपूर के साथ फिल्म ‘जंगली’ में अपना डेब्यू किया। इसके बाद शायरा बानो विश्वजीत, जॉय मुखर्जी, राजेंद्र कुमार और दिलीप कुमार के साथ कई फिल्में करती ही चली गईं। इन सब के बीच एक वो दौर भी आया जब शादीशुदा राजेंद्र कुमार चुलबुली और बला की खूबसूरत शायरा बानो को अपना दिल दे बैठे। कहा जाता है कि सायरा बानो और राजेंद्र कुमार के अफेयर के किस्सों से सायरा बानो के घरवाले नाराज थे।

सायरा बानो भारतीय सिनेमा में चालीस के दशक की मशहूर अभिनेत्री रही नसीम बानो की पोती थीं। दिलीप कुमार और सायरा बानो को करीब लाने में नसीम बानो की अहम भूमिका रही है। नसीम बानो ने ही सबसे पहले ट्रेजडी किंग यानी दिलीप कुमार से कहा कि वो सायरा बानो से राजेंद्र कुमार और उनके रिश्ते के बारे में बातचीत करें और उन्हें समझाएं। इस सिलसिले में जब ‘शहजादे सलीम’ ने सायरा बानो से बातचीत की तो वो खुद उनके प्यार में गिरफ्तार हो गए। इतना ही नहीं दिलीप कुमार ने सायरा बानो को शादी करने के लिए प्रपोज भी कर दिया। आखिरकार 11 अक्टूबर 1966 को दिलीप कुमार और सायरा बानो सातों जन्म के लिए एक दूसरे से बंध गए। उस वक्त दिलीप कुमार की उम्र 44 साल और सायरा बानो सिर्फ 22 साल की थीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App