ताज़ा खबर
 

लाइव डिबेट में कृषि विशेषज्ञ से बोले राकेश टिकैत – तुम्हें बीमारी है बोलने की ट्रेनिंग ले रखी है आठ-आठ दिनों की, वहां बोलना ही सिखाया जाता है

राकेश टिकैत बोले,'मैं तो ये कह रहा हूं कि सबको हटा दो, वो(बिचौलिए) हमारे कोई रिश्तेदार नहीं हैं? खरीद की सारी गारंटी सरकार ले ले ना।

rakesh tikait, farmer protest, bhartiya kisan unionराकेश टिकैत और कृषि विशेषज्ञ में कृषि कानूनों को लेकर हुई बहस

देश के अलग-अलग हिस्सों के किसान अभी भी दिल्ली के बॉर्डर पर डटे हैं और 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस परेड के समानांतर ट्रैक्टर परेड निकालने का ऐलान किया है। हालांकि पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने इन कृषि कानूनों के अमल पर अस्थाई तौर पर रोक लगा दी थी और इसकी समीक्षा के लिए एक कमेटी का गठन भी किया था। इसके बावजूद किसान कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े हैं। इस मुद्दे पर सियासत का दौर जारी है। इस मुद्दे पर होने वाली टीवी डिबेट में भी तीखी नोकझोंक देखने को मिल रही है।

इसी तरह की एक वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। यह वीडियो आजतक की एक डिबेट का है जिसमें भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत और कृषि विशेषज्ञ विजय सरदाना में जबरदस्त बहस होती नजर आ रही है।

डिबेट में एंकर अंजना ओम कश्यप राकेश टिकैत से बोलीं,’आपको सरदाना जी की बात का जवाब देना चाहिए वो कह रहे हैं कि किसानों के लिए ये एक ऐसा वक्त है जब परिवर्तन आए यानी कैसे बिचौलिए बाजार से हटें कैसे किसान को फायदा पहुंचे।’ इस पर राकेश टिकैत बोले,’मेरा एक सवाल है बिचौलिए चले जाएंगे, कौन आएगा ? वो कौन है जो दूसरा आदमी आएगा। क्या सरकार खरीद करेगी ?’ कृषि विशेषज्ञ विजय सरदाना बोले,’ आप खुद आएंगे टिकैत साहब, अमूल कौन चला रहा है ? आपकी सारी कॉपरेटिव डेरियां कौन चला रहा है ?’ तो इस पर राकेश टिकैत बोले,’अमूल खरीद करने आएगी!’

विजय सरदाना ने कहा,’अमूल कंपनी आप बना सकते हैं।’ उन्हें जवाब देते हुए राकेश टिकैत बोले,’किसानों से पर्ची का हिसाब तो रखा नहीं जाता वो कंपनी बनाएंगे।’ इसके बाद कॉपरेटिव और अमूल को लेकर दोनों में बहस हो गई। इस पर राकेश टिकैत बोले,’एमएसपी पर आप कानून नहीं बना रहे हो,गन्ने के भुगतान का पता है क्या हाल है उत्तर प्रदेश में।’ तो विजय सरदाना ने कहा,’टिकैत साहब आपको बिचौलियों से क्या हमदर्दी है।’

तो राकेश टिकैत बोले,’मैं तो ये कह रहा हूं कि सबको हटा दो, वो हमारे कोई रिश्तेदार नहीं हैं ? खरीद की सारी गारंटी सरकार ले ले ना। ऐसा है कॉपरेटिव के वकील मत बनो, राजनीति तो आप लोग कर रहे हैं।’कृषि विशेषज्ञ विजय सरदाना लगातार पूछने लगे कि अमूल में क्या कमी है ? तो राकेश टिकैत बोले,’कमी तो सरकार में भी नहीं है आप खरीद कर लो ना सारी, एमएसपी पर कानून बनाकर।’

इसके बाद जब विजय सरदाना लगातार बोलते रहे तो राकेश टिकैत बोले,’अरे आप क्यों बहस कर रहे हो, अरे आप चुप रहो एक बार बोलने दो। अच्छा चलो बोल लो, तुम्हें तो बीमारी है बोलने की, भाई क्योंकि ट्रेनिंग ले रखी है तुमने आठ-आठ दिन की। वहां बोलना ही सिखाया जाता है, सुननी तुम्हें किसी की है नहीं।’

Next Stories
1 YRKKH: शिवांगी जोशी को नए अवतार में देख सामने आए फैंस के रिएक्शन, कुछ ऐसे नायरा से अलग है सीरत का लाइफस्टाइल
2 JNU से की पढ़ाई, विप्रो में कर चुके हैं नौकरी; कभी लोग उड़ाते थे मज़ाक; ऐसी है यूट्यूबर ‘छोटे मियां’ की जिंदगी
3 ‘तुम्हारा जीना दुश्वार करके रहूंगी’- Twitter अकाउंट प्रतिबंधित होने का आरोप लगा भड़कीं कंगना रनौत
ये पढ़ा क्या?
X