ताज़ा खबर
 

फाइनली 21 जून को सिनेमाघरों में रिलीज होगी विवादित फिल्म ‘लिपस्टिक अंडर माय बुर्का’

फिल्म 'लिपस्टिक अंडर माइ बुर्का' फ्रांस में हुए 'फिल्म्स जे फेमिस क्रेटील' में 'ग्रैंड जूरी' पुरस्कार जीतने के साथ ही विदशों में हुए कई फिल्म महोत्सवों में कई अवॉर्ड जीत चुकी है। साथ ही साथ यह फिल्म आधिकारिक रूप से दुनियाभर में 25 फिल्म महोत्सवों से ज्यादा का हिस्सा बन चुकी है।

Author नई दिल्ली | June 13, 2017 3:07 PM
प्रकाश झा प्रोड्यूस्ड बहुचर्चित फिल्म ‘लिपस्टिक अंडर माइ बुर्का’ फाइनली आगामी 21 जून को रिलीज होने जा रही है।

प्रकाश झा प्रोड्यूस्ड बहुचर्चित फिल्म ‘लिपस्टिक अंडर माइ बुर्का’ फाइनली आगामी 21 जून को रिलीज होने जा रही है। इससे पहले यह खबर थी कि फिल्म 28 जून को रिलीज की जाएगी। लेकिन 28 जून को ही अनीस बज्मी की कॉमेडी फिल्म ‘मुबारका’ रिलीज हो रही है। इन दोनों फिल्मों को क्लैश होने से बचाने के लिए लिपस्टिक अंडर माइ बुर्का की रिलीज डेट एक सप्ताह पहले कर दी गई।

बता दें कि कुछ दिनों पहले फिल्म प्रमाणन अपीलीय न्यायाधिकरण (एफसीएटी) ने केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) को निर्देश दिया था कि वह फिल्म ‘लिपस्टिक अंडर माइ बुर्का’ को एक हफ्ते के अंदर सर्टिफिकेट सौंप दे। सीबीएफसी ने जब इस फिल्म को सर्टिफिकेट देने से इनकार कर दिया, उसके बाद निर्माताओं ने न्यायाधिकरण में अपील की थी। उल्लेखनीय है कि पहलाज निहलाणी की अध्यक्षता वाला सीबीएफसी इस फिल्म को प्रमाणपत्र देने से कतराता रहा था। उसका कहना था कि इस फिल्म में अश्लील और गाली-गलौज वाले शब्दों की भरमार है।

HOT DEALS
  • Lenovo K8 Plus 32GB Fine Gold
    ₹ 8184 MRP ₹ 10999 -26%
    ₹1228 Cashback
  • Jivi Energy E12 8 GB (White)
    ₹ 2799 MRP ₹ 4899 -43%
    ₹0 Cashback

निर्माता प्रकाश झा ने कुछ दिनों पहले अपने बयान में कहा था, “जैसा कि सबको पता है, सीबीएफसी इस फिल्म के लिए प्रमाणपत्र जारी नहीं कर रहा था, तब हमें एफसीएटी से एक बार फिर गुहार लगानी पड़ी। मुझे खुशी है कि एफसीएटी ने सीबीएफसी को एक हफ्ते के अंदर फिल्म को प्रमाणपत्र जारी करने का निर्देश दिया है। हम जल्द ही फिल्म रिलीज करने की तारीख की घोषणा करेंगे।” अब फिल्म के रिलीज करने की घोषणा कर दी गई है।

दूसरी ओर, फिल्म को सर्टिफिकेट देने में देरी पर निर्देशक अलंकृता श्रीवास्तव ने कहा था, “सीबीएफसी द्वारा परेशान करने की ये सब चाल है। वे एक बार फिर महिलाओं की आवाज को दबाने की पुरजोर कोशिश कर रहे हैं, चूंकि एफसीएटी ने इस बात का उल्लेख किया है कि फिल्म को प्रमाणपत्र देने से सीबीएफसी मना नहीं कर सकता, क्योंकि यह महिला प्रधान फिल्म है। सीबीएफसी बेवजह इस प्रकिया में देरी कर रहा है।”

मालूम हो कि इस बीच, फिल्म ‘लिपस्टिक अंडर माइ बुर्का’ फ्रांस में हुए फिल्म्स जे फेमिस क्रेटील में ग्रैंड जूरी पुरस्कार जीतने के साथ ही विदशों में हुए कई फिल्म महोत्सवों में कई अवार्ड जीत चुकी है। यह फिल्म आधिकारिक रूप से दुनियाभर में 25 फिल्म महोत्सवों से ज्यादा का हिस्सा बन चुकी है। इस फिल्म में कोंकणा सेन शर्मा और रत्ना पाठक शाह जैसी अभिनेत्रियों ने काम किया है। यह छोटे से कस्बे की चार ऐसी महिलाओं की कहानी है, जो खुलकर अपनी जिंदगी जीना चाहती हैं।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App