ताज़ा खबर
 

अब तो मैंने हंसना भी छोड़ दिया- कुणाल कामरा ने फिर नरेंद्र मोदी पर मारा ताना, न्यू यॉर्क टाइम्स ने दी जगह

कुणाल कामरा ने एक बार फिर पीएम मोदी पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि वह झूठ और पाखंड के आधार पर देश चला रहे हैं। इतना ही नहीं, वह एक्टिंग भी कर सकते हैं।"

कुणाल कामरा ने पीएम मोदी पर कसा तंज (फोटो सोर्स- एक्सप्रेस फोटो)

बीते मई माह में देशभर में कोरोना वायरस का काफी कहर देखने को मिला था। रोजाना जहां 3 लाख से ज्यादा कोरोना के केस सामने आ रहे थे तो वहीं आए दिन तीन या चार हजार से ज्यादा कोरोना से मौतें हो रही थीं। कोरोना के इस कहर को लेकर पीएम मोदी व भाजपा सरकार भी काफी निशाने पर थी। वहीं महामारी के इस कहर को लेकर अब स्टैंडअप कॉमेडियन कुणाल कामरा ने एक बार फिर पीएम मोदी पर तंज कसा है। उनके इस वीडियो को द न्यू यॉर्क टाइम्स के वीडियो ने भी अपने यू-ट्यूब चैनल से साझा किया है। कुणाल कामरा ने कहा कि क्या आपको पता है कि भारत कोरोना को मात देने वाला विश्व में पहला देश बना है।

कुणाल कामरा ने कोरोना वायरस को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा, “मेरा नाम कुणाल कामरा है, मैं भारत का एक स्टैंड-अप कॉमेडियन हूं और यहीं पर मेरी हंसी भी रुक जाती है। मई में कोरोना महामारी अपने चरम पर थी। 40 हजार मामले रोजाना सामने आ रहे थे और 4000 मौतें रोजाना हो रही थीं।”

कुणाल कामरा ने इस बारे में आगे कहा, “विशेषज्ञों का कहना है कि ये आंकड़ें बहुत कम बताए गए हैं। अभी भी जहां बाकी दुनिया फिर से खुल रही है तो हम अभी भी इस बीमारी से जूझ रहे हैं। हमारी सरकार के हाथ खून से रंगे हुए हैं। दुनिया का कोई भी नेता मोदी से इस बात में प्रतियोगिता नहीं कर सकता है। वह झूठ और पाखंड के आधार पर देश चला रहे हैं। इतना ही नहीं, वह एक्टिंग भी कर सकते हैं।”


कुणाल कामरा ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए आगे कहा, “जब मोदी ने यह ऐलान किया था कि जनवरी माह में कोरोना खत्म हो चुका है तो कोविड अपने अनुदेश का पालन करना भूल गया था।” कुणाल कामरा ने कहा कि फरवरी 2021 में वैज्ञानिकों ने कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर चेतावनी देनी शुरू कर दी थी, लेकिन मोदी जी ने उसे अनदेखा कर दिया। मार्च महीने में न केवल मोदी सरकार ने कुंभ मेला रद्द करने से मना कर दिया था, बल्कि उसे खूब बढ़ावा भी दिया।

कुंभ मेला का जिक्र करते हुए कुणाल कामरा ने कहा, “कई हिंदुओं ने वहां जाकर पूजा की। लेकिन उन्हें कायदे से घर पर ही रहना चाहिए था और यहीं रहकर अपने भविष्य के बारे में सोचना चाहिए था। अप्रैल में मोदी जी बड़ी-बड़ी चुनावी रैलियों में भी शामिल हुए। इससे साफ होता है कि वोट मायने रखता है लेकिन जिंदगी नहीं।”

स्टैंडअप कॉमेडियन ने वैक्सीन को लेकर ताना मारते हुए कहा कि हमने दूसरे देशों के लिए 60 लाख से ज्यादा वैक्सीन बनाई, लेकिन अपने लिए ही नहीं बना सके। बता दें कि कुणाल कामरा ने वीडियो को साझा करते हुए ट्वीट भी किया। उन्होंने लिखा, “न्यूयॉर्क टाइम्स के लिए कोरोना पर एक राय दी।”

 

Next Stories
1 कैंसर से जूझ रहे हैं तारक मेहता के नट्टू काका, बोले- अंतिम समय तक करना चाहते हैं काम, बताई मन की बात
2 हमारे पास सबसे बड़ा स्टैच्यू लेकिन बेसिक स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं- पीएम मोदी और चुनावी रैली का जिक्र कर बॉलीवुड डायरेक्टर ने किया सवाल
3 4 लाख ट्रैक्टर अब भी यहीं हैं, 26 तारीख भी हर महीने आती है- राकेश टिकैत ने दी मोदी सरकार को चेतावनी; आने लगे ऐसे कमेंट
ये पढ़ा क्या?
X