ताज़ा खबर
 

रिपोर्टर का माइक लेकर भागा कुत्ता तो कुमार विश्वास ने ली चुटकी- पक्षकारिता से कुत्ते भी नाराज़

कुमार विश्वास ने एक वीडियो शेयर किया है जिसमें लाइव ब्रॉडकास्ट के दौरान रिपोर्टर रिपोर्ट कर रही थीं कि अचानक एक कुत्ता उनसे माइक छीनकर भागने लगा। वीडियो को शेयर करते हुए कुमार विश्वास ने कहा है कि पक्षकारिता से कुत्ते...

कुमार विश्वास अक्सर सामाजिक मुद्दों पर अपनी राय देते हैं (Photo-Indian Express/Gajendra Yadav)

मशहूर हिंदी कवि कुमार विश्वास ने एक वीडियो शेयर किया है जिसमें एक कुत्ता रिपोर्टर का माइक छीनकर भागने लगता है। लाइव ब्रॉडकास्ट के दौरान रिपोर्टर रिपोर्ट कर रही थीं कि अचानक एक कुत्ता उनसे माइक छीनकर भागने लगा जिसके पीछे रिपोर्टर को भी दौड़ना पड़ा। कुमार विश्वास ने इस वीडियो को शेयर  करते हुए कहा है कि पक्षकारिता से कुत्ते भी नाराज़ हैं।

कुमार विश्वास ने जो वीडियो शेयर किया है वो रूसी टीवी चैनल का है। उन्होंने वीडियो शेयर करते हुए लिखा है, ‘पक्षकारिता के लगातार एकतरफा झूठ से कुत्ते तक नाराज़ हैं।’ कुमार विश्वास के ट्वीट पर यूजर्स भी अपनी राय दे रहे हैं। प्रोफेसर राकेश गोस्वामी ने कुमार विश्वास के ट्वीट पर टिप्पणी की है, ‘वहां भी (रूस में)? मतलब हर शाख पे?’

अमित मिश्रा नाम के यूजर ने लिखा, ‘भारतीय कुत्ते, मीडिया से ज्यादा अच्छे हैं जो उनके मुंह तक नहीं लगते।’ विवेक अग्रवाल नाम के यूजर ने तंज कसते हुए लिखा, ‘अब देखो हिंदुस्तान के कुत्ते कब समझदार होते हैं।’ कृष राजपुरोहित नाम के एक यूजर ने व्यंगात्मक अंदाज में लिखा, ‘कैमरामैन बी लाइक: ये भी शूट कर लेता हूं। अरे वो पीछे भाग रही है, वो भी क्यों शूट करना है तुम्हें?’

 

संदीप शर्मा नाम के एक यूजर लिखते हैं, ‘इंसान से लेकर कुत्ते भी अब समझ रहे हैं कि पत्रकारिता कहां तक गिर चुकी है। फिर कुत्ते तो वैसे भी वफादार होते हैं। अब पत्रकार को सोचना है कि समाज में हमारी वैल्यू हमारे आचरण ने खत्म कर दी है।’

 

कुमार विश्वास अक्सर सोशल मीडिया के जरिए अपनी बात रखते हैं। हाल ही में उन्होंने बिना नाम लिए वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण पर तंज कसते हुए एक ट्वीट किया था जो खूब वायरल हुआ था। अप्रैल फूल के दिन किए गए अपने ट्वीट में कुमार विश्वास ने लिखा था, ‘मात्र आज ही अप्रैल फूल की बधाई न दें। चूंकि हम भारतीय मतदाता हैं, अतः हमारी मूर्खताओं के लिए केवल एक दिन बधाई देना हमारे सात दशकों के प्रदर्शन का अपमान है।’

 

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने 2021- 2022 की पहली तिमाही की छोटी बचत योजनाओं पर दिए जाने वाले ब्याज दरों में कटौती की घोषणा की थी जिसकी खूब आलोचना हुई। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 अप्रैल को एक ट्वीट कर कहा कि ब्याज दरों में कटौती का आदेश भूल से जारी हुआ था। इसी के साथ ही केंद्र सरकार की तरफ से आदेश वापस ले लिया गया। इसके बाद सोशल मीडिया पर लोग यह कहने लगे सरकार की तरफ से आम लोगों को अप्रैल फूल बनाया जा रहा है।

Next Stories
1 मैंने सबको सपोर्ट किया, मेरे पास प्रूफ! लेकिन किसी ने मुझे सपोर्ट नहीं किया- तापसी, आलिया, दीपिका, करीना का नाम लेकर बोलीं कंगना रनौत
2 गहलोत सरकार में राकेश टिकैत पर हमला, समझ नहीं आता कौन किसके साथ- बोले कांग्रेस नेता तो लोग देने लगे ऐसे जवाब
3 BJP के सांसद-विधायक गुंडों से हमला कराएंगे तो उन्हें सड़क पर नहीं निकलने देंगे- बोले राकेश टिकैत तो लोग देने लगे ऐसी प्रतिक्रिया
ये पढ़ा क्या?
X