ताज़ा खबर
 

अभिभावक फरार हो गए और मेरे हिस्से काम आ गया- महामारी को लेकर प्रशासन पर बिफर पड़े कुमार विश्वास, बोले- हमें वोट नहीं मिलता लेकिन…

कुमार विश्वास कोरोना संकट के बीच लोगों के लिए मसीहा साबित हुए। इसे लेकर 'देश को जवाब दो' शो में भी उनसे बातचीत की गई। शो के बीच कुमार विश्वास प्रशासन पर भी भड़के हुए नजर आए।

कुमार विश्वास (फोटोसोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

कोरोना संकट के बीच देश में लोगों को अस्पतालों में ऑक्सीजन, बेड व वेंटिलेटर की कमी से जूझना पड़ रहा है। तो वहीं, इस दौरान हिंदी के मशहूर कवि कुमार विश्वास लोगों के लिए मसीहा साबित हुए हैं। वह न केवल लोगों को बेड व ऑक्सीजन दिला रहे हैं, बल्कि गांव-गांव तक भी मदद पहुंचा रहे हैं। कुमार विश्वास के इन कामों को लेकर न्यूज 18 के शो में उनसे बातचीत की गई। इस बीच उनसे पूछा गया कि लोगों को अस्पतालों में बेड और ऑक्सीजन नहीं मिलता है, लेकिन कुमार विश्वास को कैसे मिल जाता है? इस बात पर कुमार विश्वास ने जबरदस्त अंदाज में जवाब दिया। इतना ही नहीं, शो के दौरान वह प्रशासन पर भी भड़के नजर आए।

‘देश को जवाब दो’ शो में डॉक्टर कुमार विश्वास से सवाल किया गया कि लोग जानना चाहते हैं कि आपको इतने ऑक्सीजन सिलेंडर कैसे मिल गए, इतना सामान आपके पास कैसे इकट्ठा हुआ? इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा, “ये पूछने की और मिलने की बात है, सबको सब कुछ नहीं मिल जाता है।”

कुमार विश्वास को वोट नहीं मिलता है: कुमार विश्वास ने अपने बयान में आगे कहा, “सबको प्रसेप्शन नहीं मिलता है, सबको सत्ता नहीं मिल जाती है। कुमार विश्वास को वोट नहीं मिलता है। जमानत जब्त हो जाती है, जब हम लोग लड़ते हैं। लेकिन डॉक्टर हमें बेड दे देते हैं। अगर हम किसी डॉक्टर के पास फोन करते हैं कि बेड दे दीजिए, तो वो कहते हैं कि अरे हम तो आपको जानते हैं। वह हमारा काम करके हमें अपडेट भी करते हैं कि काम हो गया है।”


कुमार विश्वास ने इस मामले पर बात करते हुए आगे कहा, “तो भैया सबकुछ नहीं मिलता है। या तो अनुभूति मिलती है, या सत्ता मिलती है या ताकत मिलती है। दुर्भाग्य से मेरा और अरविंद गौड़ का काम नाटक लिखकर, कविता लिखकर सरकार को टैक्स देना ही था। बाकी सारा काम अभिभावकों और सरकार था।”

अभिभावक फरार हो गए और काम मुझे मिल गया: कुमार विश्वास ने आगे सरकार व प्रशासन पर निशाना साधते हुए कहा, “अभिभावक तो फरार हो गए, ऐसे में मेरे और अरविंद गौड़ के हिस्से में काम आ गया। ऐसे में हमें बेड भी मिल जाता है और बाकी सामान भी मिल जाता है।” इसके अलावा कुमार विश्वास ने अपने बयान में गांव के लिए कोविड-19 केयर किट बनवाने की भी बात कही।

बता दें कि कुमार विश्वास का शो के दौरान केंद्र और राज्य सरकारों पर भी गुस्सा फूटा था। उन्होंने सरकार को ताना मारते हुए कहा, “ये बेशर्म जो बताते हैं कि हमने ऐसे व्यवस्था बना दी है, ऐसे अस्पताल बना दिये हैं। इनके घरवाले जब बीमार हुए तो सरकारी अस्पताल में नहीं मेदांता में जाकर लेटे। उन्हें वहां जाते हुए शर्म नहीं आई।” इसके साथ ही उन्होंने शिक्षा व्यवस्था को लेकर भी सरकार पर निशाना साधा।

Next Stories
1 फकीरा की छवि बचाने के लिए फर्जी झांसी की रानी..- कंगना रनौत पर बरसीं लालू यादव की बेटी, कहा, ‘अंधभक्ति की कोई सीमा नहीं’
2 निक जोनास नहीं, TV के इस मशहूर एक्टर से इंप्रेस हो गया था प्रियंका चोपड़ा का परिवार; कराना चाहते थे एक्ट्रेस की शादी
3 उससे मत मिलो, उसका कुछ नहीं होगा- राजेश खन्ना नहीं चाहते थे अमिताभ बच्चन से मिले जया बच्चन, कहते थे ऐसी बातें
ये पढ़ा क्या?
X