वीडियो ट्वीट कर कुमार विश्वास ने केजरीवाल पर साधा निशाना, बोले- एक और फ्री सुविधा, यमुना में बादल उतार दिए

यमुना नदी में अमोनिया का स्तर बढ़ा है, जिससे कई जगह जल आपूर्ति भी प्रभावित हुई है। इस बात पर अब कुमार विश्वास ने सीएम केजरीवाल पर तंज कसा है।

kumar vishwas, aryan khan
मशहूर कवि कुमार विश्वास (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

दिल्ली में वायु प्रदूषण के साथ-साथ जल प्रदूषण भी बढ़ता ही जा रहा है। राजधानी दिल्ली में यमुना नदी में अमोनिया का स्तर बढ़ गया, जिससे पानी में फोम तैरते हुए नजर आए। अमोनिया स्तर बढ़ने से दिल्ली में कई जगह जल आपूर्ति भी प्रभावित हुई। खासकर कालिंदी कुंज के पास यमुना नदी की स्थिति ज्यादा खराब देखी गई। इस बात को लेकर अब मशहूर कवि कुमार विश्वास ने दिल्ली सरकार को घेरा है और तंज कसते हुए लिखा कि यमुना में भी बादल उतार दिये।

दिल्ली सरकार को लेकर किया गया कुमार विश्वास का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। कुमार विश्वास ने ट्वीट में लिखा, “दिल्ली को एक और ‘फ्री’ सुविधा के लिए बधाई। अब तो यमुना में बादल भी उतार दिए हैं। गली-गली मुफ्त का नरक कोविड के दौरान दिखा ही दिया था। टैक्सपेयर्स के पैसे पर टीवी में कालनेमि-लाइव देखा ही होगा।”

कुमार विश्वास ने ट्वीट में पंजाब चुनाव का भी जिक्र किया और लिखा, “अब पंजाब में भी यही कौशल दिखाने का अवसर दें ‘स्वराज-शिरोमणि लघुकाय आत्ममुग्ध धूर्तेश्वर’ को।” कुमार विश्वास के इस ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर ने भी खूब कमेंट किये। एक यूजर ने ट्वीट को लेकर कुमार विश्वास पर तंज कसा और लिखा, “एक कवि को जनता द्वारा चुने हुए मुख्यमंत्री के लिए ऐसी भाषा अशोभनीय है।”

पर्मिला नाम की यूजर ने कुमार विश्वास के ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा, “चुनाव जीते तो यमुना को ऐसा बनाएंगे कि यमुना में डुबकी लगाएंगे और यमुना की आरती होगी। चुनाव जीत गए, लेकिन कोई यह सवाल नहीं करता कि यमुना साफ क्यों नहीं हुई।” शक्ति नाम के यूजर ने लिखा, “कभी केंद्र को भी कोस लिया कीजिए या केंद्र आपके कुछ लगते हैं। दिल्ली के अधिकांश फैसले केंद्र के एलजी लेते हैं।”

बता दें कि इससे पहले भी कुमार विश्वास ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर तंज कसते हुए ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने लिखा था, “कोई सदियों छले नाम लेकर अपने परिवार का। कोई ताजा-ताजा छलिया राष्ट्रधर्म सरकार का। कोई सबको चोर बताकर खुद ही राहजनी पर है, कोई रखे धरनों का पर्दा अपने भ्रष्टाचार पर। वाणी पर पहरे पर चाकू है, लोकतंत्र के सारे राजा डाकू हैं।”

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट