मिल गईं बहन जी की उत्तराधिकारी- BSP विधायक बोलीं, 1000 रुपए तक घूस में बुराई नहीं तो कुमार विश्वास ने यूं ली चुटकी

बसपा विधायक ने कहा था कि – ‘आटे में नमक बराबर रिश्वत चल सकती है, अगर कोई 1000 रुपये तक रिश्वत लेता है तो कोई बुराई नहीं है

Kumar Vishwas, BSP MLA, BSP LEADER Mayawati,
बसपा विधायक रामबाई (फोटो सोर्स – सोशल मीडिया वीडियो शॉट, इंस्टा)

बहुजन समाज पार्टी (BSP) विधायक रामबाई सिंह के ‘आटे में नमक के बराबर रिश्वl…’ वाले बयान पर सियासी घमासान मच गया है। चर्चित कवि डॉ. कुमार विश्वास रामबाई सिंह के बहाने बीएसपी पर निशाना साधा है। उन्होंने कटाक्ष करते हुए लिखा कि, ‘मिल गईं बहन जी की उत्तराधिकारी…।’ दरअसल, मध्य प्रदेश की बसपा विधायक रामबाई सिंह ने एक विवादित बयान दिया था।

उन्होंने कहा था कि – ‘आटे में नमक बराबर रिश्वत चल सकती है, अगर कोई 1000 रुपए तक रिश्वत लेता है तो कोई बुराई नहीं है लेकिन इससे ज्यादा ठीक नहीं है।’ रामबाई के इसी बयान पर कुमार विश्वास ने रिएक्ट किया और कहा- ‘कित्ती क्यूट बात, मिल गईं, मिल गईं, बहन जी की उत्तराधिकारी मिल गईं।’

ट्विटर पर कुमार विश्वास की इस पोस्ट पर तमाम लोगों के रिएक्शन सामने आ रहे हैं। विशाल नाम के यूजर ने लिखा- ‘कुमार विश्वास जी, बहन जी पर टिप्पणी मत कीजिये… ये विधायक बसपा से निष्कासित हैं।’ जयदीप नाम के यूजर ने लिखा- ‘निष्कासित शायद इसलिए हुईं कि इन्होंने हिस्सा बहनजी तक नहीं पहुंचाया।’

ए एम कुनाल ने कहा- ‘महंगाई बहुत है भाया! छोटी बहनजी को रिश्वत में हज़ार रुपए की स्पेशल छूट मिलनी चाहिए। जब पार्टी फ़ंड में दो हज़ार की छूट है तो रिश्वत में हज़ार रुपए की छूट तो बनती है।’ आभा सिंह नाम की यूजर ने कहा- ‘कोई व्यक्ति यदि 1000 रुपए हर व्यक्ति से ले, तो एक दिन में अच्छी ख़ासी कमाई हो जाएगी और आपका काम भी बन जाए और सरकारी मुलाजिमों एवं नेता जी की भी बल्ले-बल्ले।’

(पढ़ा-लिखा नहीं होता तो आपकी तरह विधायक होता, पत्रकार पर बिगड़ींं नेत्री को मिला था जवाब)

शिप्रा नाम की यूजर ने कहा- ‘इनका मतलब है कि ब्लैक न व्हाइट, बस ग्रे ठीक है। ज्यादा नहीं, थोड़ी बदमाशी ठीक है।’ प्रमिला नाम की यूजर ने चुटकी लेते हुए कहा- ‘जो देशसेवा करता है, उसे थोड़ी बदतमीजी का हक है। देश सेवा थोड़ी बदतमीजी के बिना शोभा ही नहीं देती, थोड़ी बेवकूफी भी मिली हो तो और चमक आ जाती है- हरिशंकर परसाई।’ बता दें, गांव वालों का आरोप था कि उनसे अधिकारियों द्वारा 5 से 10 हज़ार रुपए तक रिश्वत ली जाती है। इसी के बाद विधायक रामबाई ने कहा था कि थोड़ा-बहुत तो चलता है।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट