ताज़ा खबर
 

कश्मीरी पंडितों के विस्थापन पर बनी ‘शिकारा’ फ़िल्म को देखकर छलका कुमार विश्वास का दर्द, कहा- ‘ लानत है हमपर…’

मशहूर कवि कुमार विश्वास (Kumar Vishvas) ने ट्वीट कर लोगों से कश्मीरी पंडितों के विस्थापन पर बनी फिल्म शिकारा (shikara) देखने की अपील की है।

Kumar Vishwas, shikara, kumar vishvas, Kumar Vishvas Tweet, vidhu vinod chopra, kumar vishvas twitter, Kumar Vishvas on kashmiri pandit, lockdown, कुमार विश्वास, कुमार विश्वास ट्वीटकुमार विश्वास ने ट्वीट कर लोगों से फिल्म शिकारा देखने की अपील की

मशहूर कवि कुमार विश्वास (Kumar Vishvas) सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। कुमार विश्वास बेबाकी से अपनी राय रखने के लिए जाने जाते हैं और आए दिन कोई न कोई वीडियो या पोस्ट शेयर करके सुर्खियों में बने रहते हैं। पूरे भारत में फिलहाल 21 दिनों के लिए लॉकडाउन है कुमार विश्वास ने ट्वीट कर लोगों से लॉकडाउन के दौरान कश्मीरी पंडितों के विस्थापन पर बनी फिल्म शिकारा (shikara) देखने की अपील की है।

कुमार विश्वास ने ट्वीट कर लिखा, ‘खुद ही की भलाई के लिए घरों में क़ैद जो लोग दर्द-कष्ट की दुहाई दे रहें हों वे कश्मीरी पंडितों के विस्थापन पर विधु विनोद चोपड़ा की Amazon Prime Video (अमेज़न प्राइम वीडियो) पर शिकारा फ़िल्म देखें। लानत है हमपर कि हमनें ऐसे नमकहराम मालिकों के हाथों अपनी जन्नत को दोज़ख़ में तब्दील करवाया। कोई तो तर्पण करें उन सपनों का।’ कुमार विश्वास का ये ट्वीट कुछ ही देर में सोशल मीडिया पर वायरल हो गया और यूजर्स जमकर इसपे कमेंट कर रहे हैं।


बता दें कि डायरेक्टर विधु विनोद चोपड़ा की कश्मीरी पंडितों पर आधारित फिल्म शिकारा 7 फरवरी 2020 सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी। फिल्म की कहानी शिव कुमार धर और उसकी पत्नी शांति धर के इर्द गिर्द घूमती है, जो पंडित हैं और कश्मीर में शांत और खुशहाल जिंदगी बिता रहे होते हैं। लेकिन उस वक्त घाटी में धीरे-धीरे सांप्रदायिक तनाव अपने पैर पसार रहा होता है। शिव और शांति को अपनी जिंदगी, अपनी जीवनभर की कमाई से बनाया घर और सुख को छोड़कर अपनी जान के लिए भागकर ऐसी जगह जाना पड़ता है जो उनकी नही थी।

मालूम हो कि इससे पहले कुमार विश्वास का एक ट्वीट काफी वायरल हुआ था जिसमें उन्होंने इंदौर के टाट पट्टी बाखल इलाके की घटना जहां स्वास्थ्य कर्मियों पर पथराव किया गया था का विरोध किया था। कुमार ने ट्वीट कर लिखा था कि, ‘जान बचाने निकले देवदूतों पर जहालत का आक्रमण। जी दोहरा रहा हूँ, बस एक ही रास्ता बचा है। ‘Test-Test-Test’ और ‘Emergency-Emergency-Emergency’ ऐसा न हो कि देर हो जाए और कोई रास्ता ही न बचे।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘बिना बिजली के लिफ्ट कैसे कराएंगे’, अदनान सामी और शशि थरूर के बीच पीएम मोदी की अपील पर जुबानी जंग
2 सानिया मिर्ज़ा बोलीं- हजारों लोग भूखे मगर ये वीडियो बना रहे, एक्ट्रेस दिया मिर्जा का जवाब- दूसरों को जज करना बंद करो
3 ‘अच्छा है मस्जिद में ही ताले पड़ जाएं…’, शायर मुनव्वर राणा और गीतकार मनोज मुंतशिर के बीच छिड़ी जुबानी जंग