ताज़ा खबर
 

महाभारत में कृष्ण बनकर भारतीयों के दिल में बनाई थी जगह, आज घर चलाने के लिए यह करते हैं नीतीश भारद्वाज

नीतीश भारद्वाज ने छोटे पर्दे पर अपनी छाप छोड़ने के बाद राजनीति की तरफ रुख किया था। वो लोकसभा के सदस्य भी रह चुके हैं।

Nitish Bharadwaj, krishnaNitish Bharadwaj, mhabharat, Know these interesting things about Nitish Bharadwaj, b r chopra, Nitish Bharadwaj has starred in many Marathi movies like Anapekshit, film actor, director, screenwriter and former member of the Indian Parliament Lok Sabha, Bollywood News, Bollywood News in Hindi, News in Hindi, Entertenment news in Hindi, crime news, naitonal news, international news, trending news, twitter news, Viral story in Hindi, Latest news in Hindi, Jansattaनीतीश भारद्वाज।

जब भी हम ‘महाभारत’ की बात करते हैं तो जहन में टीवी सीरियल ‘महाभारत’ में ‘कृष्णा’ की भूमिका अदा करने वाले नीतीश भारद्वाज का चेहर उभर आता है। एक्टर नीतीश भारद्वाज ने 90 के दशक में बीआर चोपड़ा की टीवी सीरीज महाभारत में कृष्णा को ऐसे पर्दे पर उतारा कि लोग सच में उन्हें कृष्ण मानने लगे थे। कृष्ण की शरारतें और उनकी अपार लीलाओं को अपने अंदज में पेश कर नीतीश ने एक मिसाल पेश की और दूसरे कलाकारों के लिए एक उस छवि में फिट बैठने के लिए चैलेंज खड़ा किया है। लेकिन नीतीश भारद्वाज की रियल लाइफ के बारे में कम ही लोग जानते हैं। चलिए आज हम बताते हैं।

साल 1998 में महाभारत सीरियल से सभी के दिलों पर अपनी एक्टिंग की छाप छोड़ने वाले नीतीश भारद्वाज का जन्म 2 जून 1963 को हुआ था। नीतीश भारद्वाज ने वैसे तो कई फिल्मों में काम किया है। लेकिन उन्हें पहचान बीआर चोपड़ा के फेमस सीरियल ‘महाभारत’ से मिली थी। नीतीश को इस सीरीज से पहचान भी ऐसी मिली की आज भी लोग उन्हें याद करते हैं तो कृष्णा के रोल की वजह से। कहा जाता है कि कई बार लोग उन्हें भगवान मानकर उनके पैर छूते थे।

नीतीश भारद्वाज ने छोटे पर्दे पर अपनी छाप छोड़ने के बाद राजनीति की तरफ रुख किया था। वो लोकसभा के सदस्य भी रह चुके हैं। साल 1996 में वो जमशेदपुर से सासंद चुने गए थे। इसके बाद मध्यप्रदेश की पूर्व सीएम उमा भारती ने नीतीश को मप्र पर्यटन निगम के अध्यक्ष की ज‍िम्‍मेदारी सौंपी थी। वहीं 2004 में एक बार फ‍िर वह राजगढ़ लोकसभा क्षेत्र से चुनाव के मैदान में उतरे। इसमें उनका मुकाबला दिग्विजय सिह के भाई लक्ष्मण सिंह से था। ज‍िसमें नीतीश हार गए। बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में नीतीश ने कहा था कि राजनीति में जाने के बाद ही उन्हें भारत को गहराई से देखने और समझने का मौका मिला था।

नीतीश भारद्वाज ने साल 2016 में दोबारा एक्टिंग की राह पकड़ी और आखिरी बार वो ऋतिक रोशन स्टारर फिल्म मोहनजोदाड़ो में नजर आए थे। फिल्म में उन्होंने ‘दुर्जन’ का रोल बखूबी निभाया था। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो नीतीश आज भी बायोपिक और कॉमेडी फिल्में में काम करना चाहते हैं। वो आज भी घर चलाने के लिए नाटकों में काम करना पसंद करते हैं।

कम ही लोग जानते हैं कि बचपन से एक्टिंग का शौक रखने वाले नीतीश भारद्वाज ने मुंबई के वेटरनरी कॉलेज से डॉक्टरी की पढ़ाई की थी। लेकिन मन एक्टिंग में लगता था इसलिए डॉक्टरी पेशा छोड़ दिया था।

नीतीश भारद्वाज की नि‍जी जि‍दंगी की बात करें तो उन्होंने दो बार शादी की है। साल 1991 में मोनिषा पाटिल से शादी की थी लेकिन 2003 में तलाक हो गया। अब मोनिषा अपने बच्चों के साथ लंदन में रहती हैं। इसके बाद नीतीश ने साल 2009 में मप्र कैडर की आईएएस स्मिता गाटे से दूसरी शादी की। आज ये अपने पर‍िवार के साथ एक हैप्पी मैर‍िज लाइफ जी रहे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 एक बार फिर प्रेग्नेंट हैं शिल्पा शेट्टी, अनुराग बसु ने शमिता शेट्टी को बताई ‘गुड न्यूज’
2 करण जौहर के दिल में आज भी हैं बेस्टी काजोल के लिए स्पेशल फीलिंग्स!
3 41 वर्षीय ब्लेक शेल्टन को पीपल मैगजीन ने चुना दुनिया का सबसे सेक्सी पुरुष