ताज़ा खबर
 

स्टेज पर आकर जब इस एक्ट्रेस ने कहा- देना है तो ‘सपोर्टिंग’ नहीं, ‘बेस्ट एक्ट्रेस’ अवार्ड दो

बॉलीवुड एक्ट्रेस वैजयंतीमाला ने करीब दो दशकों तक बॉलीवुड पर राज किया है। वैजयंतीमाला अपने दौर की बेहतरीन एक्ट्रेस मानी जाती थीं। उन्होंने कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया है।
1955 में आई दिलीप कुमार की फिल्म देवदास में भी वैजयंतीमाला ने चंद्रमुखी का किरदार निभाया था, जिसे आज भी याद किया जाता था।

बॉलीवुड एक्ट्रेस वैजयंतीमाला ने करीब दो दशकों तक बॉलीवुड पर राज किया है। वैजयंतीमाला अपने दौर की बेहतरीन एक्ट्रेस मानी जाती थीं। उन्होंने कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया है।  1955 में आई दिलीप कुमार की फिल्म देवदास में भी वैजयंतीमाला ने चंद्रमुखी का किरदार निभाया था, जिसे आज भी याद किया जाता था। इस फिल्म के लिए जब वैजयंती को बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का फिल्मफेयर अवार्ड दिया गया तो इन्होंने यह कहकर उसे लेने से मना कर दिया कि देना है तो ‘सपोर्टिंग’ नहीं, ‘बेस्ट एक्ट्रेस’ अवार्ड दो। वैजयंती का मानना था कि देवदास के जीवन में जितनी अहम भूमिका पारो की थी, उतनी ही चंद्रमुखी की भी। उनके मुताबिक वह इस फिल्म में किसी सपोर्टिंग एक्ट्रेस की भूमिका में नहीं थीं। एक्टिंग के साथ-साथ वैजयंती ने अपने क्लासिकल डांस से भी अपनी अलग पहचान बनाई और इंडस्ट्री में खुद को स्थापित भी किया।

50 और 60 के दशक में वैसे तो वैजयंती का नाम कई एक्टर्स के साथ जोड़ा गया, जिसमें राज कपूर जैसे बड़े नाम भी शामिल थे। लेकिन वैजयंती ने अपने एक फैन से शादी कर इस सब अफवाहों को शांत कर दिया। वैजयंती माला ने किसी एक्टर से नहीं बल्कि एक डॉक्टर से शादी की थी। एक बार जब उनकी तबियत बिगड़ गई थी तो वो डॉक्टर के पास गई और तभी उनहोंने उनसे शादी करने का मन बना लिया।

वैजयंती माला उससे इतना प्रभावित हुई कि अपना पूरा जीवन उनके साथ बिताने का मन बना लिया। दरअसल, वह डॉक्टर वैजयंती का बहुत बड़ा प्रशंसक भी था। वैजयंती इंदिरा गांधी की काफी करीबी मानी जाती थीं। उनका दो बार लोकसभा के लिए चुनाव भी हुआ लेकिन 1999 में उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। लीडर’ और ‘संगम’ जैसी फिल्मों में वैजयंती माला की एक्टिंग की काफी वाहवाही हुई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App