ताज़ा खबर
 

अवैध निर्माण तोड़े जाने के मामले में कपिल शर्मा ने BMC के खिलाफ खटखटाया बांबे हाइकोर्ट का दरवाजा

कपिल शर्मा का बीएमसी पर आरोप है कि वो गलत मंशा से काम कर रही है। बॉम्बे हाइकोर्ट में दायर अर्जी में लिखा है कि उस बिल्डिंग को पहले सीसी और फिर 6 नवंबर 2013 को ओसी भी खुद बीएमसी ने दिया है।
कॉमेडियन कपिल शर्मा।

कॉमेडियन और एक्टर कपिल शर्मा ने वर्सोवा स्थित अपने आॅफिस का अवैध निर्माण वाला हिस्सा तोड़ने के मामले में बीएमसी के खिलाफ बॉम्बे हाइकोर्ट में याचिका दायर की है। उन्होंने कोर्ट से अपने आॅफिस के कथित अवैध निर्माण वाले हिस्से को तोड़ने से रोकने की मांग की है। कपिल शर्मा का बीएमसी पर आरोप है कि वो गलत मंशा से काम कर रही है और उसका कदम गैर-कानूनी है। कपिल शर्मा ने बॉम्बे हाइकोर्ट में दायर अर्जी में लिखा है कि 18 मंजिला उस बिल्डिंग को पहले सीसी और फिर 6 नवंबर 2013 को ओसी भी खुद बीएमसी ने दिया है। लेकिन, फिर अचानक 14 नवंबर 2014 बीएमसी के बिल्डिंग और फैक्टरी डिपार्टमेंट ने नोटिस देकर बिल्डिंग के कुछ हिस्से को अवैध बता दिया।

उन्होंने तब जवाब में किसी भी तरह के अवैध निर्माण से मना किया। लेकिन जब बीएमसी उनके जवाब से सहमत नहीं हुई तब उन्होंने दिंडोशी में अदालत का दरवाजा खटखटाया। अदालत ने 28 दिसंबर 2014 को अंतरिम राहत देते हुए सुनवाई पूरी होने तक बीएमसी की किसी भी तरह की कार्रवाई पर रोक लगा दी। शर्मा के मुताबिक अदालती रोक होने के बावजूद उन्हें अप्रैल 2016 को बीएमसी ने फिर तोड़ने की नोटिस दी। इसलिए कपिल शर्मा ने बॉम्बे हाइकोर्ट में अर्जी देकर बीएमसी की कार्रवाई पर रोक लगाने की मांग की है। अर्जी पर सुनवाई होनी अभी बाकी है।

वीडियो: ग्रैंड प्रीमियर मिस कर दिया तो कोई बात नहीं, वीडियो में देखें पहले दिन के रोमांचक पल

गौरतलब है कि कपिल शर्मा ने पिछले महीने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग करते हुए एक ट्वीट किया था। जिसमें उन्होंने बीएमसी के एक अफसर पर वर्सोवा स्थित अनके एक दफ्तर के निर्माण के लिए 5 लाख की रिश्वत मांगने का आरोप लगाया था। उनके इस ट्वीट पर काफी बवाल मचा था। उस घटना के बाद से ही कपिल शर्मा के मुंबई में चल रहे दोनों निर्माण कार्य सवालों के घेरे में हैं। कपिल शर्मा द्वारा प्रधानमंत्री को टैग करके ट्वीट करने के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फणनवीस ने दोषी बीएमसी अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का वादा किया था। गौरतलब है कि इस साल जुलाई में बीएमसी ने कपिल शर्मा को अंधेरी वेस्ट में बन रहे उनके दोनों बंगलों का निर्माण कार्य रोकने के लिए नोटिस दिया था। बीएमसी ने नोटिस में कपिल शर्मा को कहा था कि वे निर्माण कार्य रोक दें और 24 घंटे के अंदर बंगलों के अवैध हिस्सों को तोड़ें। इसी साल 4 अगस्त को बीएमसी ने कपिल शर्मा के बंग्ले के अवैध हिस्से को तोड़ा भी था।

Read Also: कपिल शर्मा ने टैक्स जमा करने के मामले में आमिर खान को छोड़ा पीछे, जानिए कैसे

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.