संता बंता निकल पड़े BJP को जिताने- कांग्रेस में शामिल हुए कन्हैया-जिग्नेश तो बॉलीवुड फिल्ममेकर ने कसा तंज

बॉलीवुड फिल्ममेकर अशोक पंडित ने कन्हैया कुमार और जिग्नेश मेवाणी पर निशाना साधते हुए कहा है कि कांग्रेस बीजेपी को जिताने के लिए कड़ी मेहनत करती है।

kanhaiya kumar, jignesh mevani, congress
कन्हैया कुमार और जिग्नेश मेवाणी कांग्रेस में शामिल हो गए हैं (photo-Ashoke Pandit/Twitter)

जवाहलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के नेता कन्हैया कुमार कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। कन्हैया के साथ ही गुजरात के दलित नेता और निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी ने भी कांग्रेस का दामन थाम लिया। दोनों के कांग्रेस पार्टी में शामिल होने को लेकर सोशल मीडिया पर एक वर्ग तंज कस रहा है। बॉलीवुड फिल्ममेकर अशोक पंडित ने दोनों युवा नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा है कि कांग्रेस बीजेपी को जिताने के लिए कड़ी मेहनत करती है।

उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से किए गए एक ट्वीट में लिखा, ‘ये लो, संता बंता निकल पड़े बीजेपी को फिर जिताने। कांग्रेस हमेशा ही बीजेपी को जिताने के लिए कड़ी मेहनत करती है।’ मशहूर कॉमेडियन कुणाल कामरा ने कन्हैया कुमार का एक एडिटेड वीडियो शेयर करते हुए ट्वीट किया है, ‘सीपीआई में नहीं मेरे भाइयों, सीपीआई से आजादी चाहते हैं।’

बीजेपी की कार्यकर्ता प्रीति गांधी ने कन्हैया कुमार से जुड़ी दो पुरानी खबरों की ट्वीट करते हुए लिखा, ‘गंभीर सवाल। ये आदमी कांग्रेस में क्या योगदान कर पाएगा?’

पार्टी में शामिल होने के बाद कन्हैया कुमार ने कहा है, ‘मैं कांग्रेस पार्टी इसलिए ज्वॉइन कर रहा हूं क्योंकि मुझे ये महसूस होता है कि इस देश में कुछ लोग इस देश की सत्ता पर काबिज हैं। वो इस इस देश का भविष्य खराब करने की कोशिश कर रहे हैं।’

बताया जा रहा है कि कन्हैया कुमार के कांग्रेस से जुड़ने के पीछे चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर की बड़ी भूमिका है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्रशांत किशोर 2024 के लोकसभा चुनावों से पहले कांग्रेस को मजबूत बनाने और उसे एक नया रूप देने की कोशिश कर रहे हैं। राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि कन्हैया कुमार और जिग्नेश मेवाणी के कांग्रेस के शामिल होने से उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर चुनावों में कांग्रेस को मदद मिलेगी।

बता दें, कन्हैया कुमार बिहार के बेगूसराय जिले के रहने वाले हैं। सीपीआई की तरफ से उन्होंने लोकसभा का चुनाव भी लड़ा लेकिन बीजेपी के गिरिराज सिंह से वो हार गए थे। कन्हैया नागरिकता विरोधी (संशोधन) अधिनियम (CAA) के खिलाफ भी प्रखर रहे हैं।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट