ताज़ा खबर
 

न कहीं आती है न जाती है ये ट्रेन, फिर भी कईं एक्टर्स सफर कर इसकी बदौलत पा चुके हैं मंजिल…

फिल्म 'पाकिजा' के डायरेक्टर कमाल अमरोही ने कमालिस्तान स्टूडियो 1958 में बनाया था। बहुत बड़े एरिया में बने इस स्टूडियो में हिंदी सिनेमा के कई एक्टर्स ने काम किया है।

(फोटोसोर्स: फिल्मी फिल्मोनिया यूट्यूब चैनल से लिया गया शॉट)

हिंदी सिनेमा में फिल्मों में ट्रेन के सीन अकसर देखने को मिलते हैं। जिन फिल्म प्रोडक्शन के पास फिल्म पर खर्चने के लिए अधिक पैसा नहीं होता, तब बड़े-बड़े सेट्स पर बनी नकली ट्रेनें काम आती हैं। मुंबई के अंधेरी ईस्ट में कमालिस्तान स्टूडियो है। फिल्म ‘पाकिजा’ के डायरेक्टर कमाल अमरोही ने कमालिस्तान स्टूडियो 1958 में बनाया था। बहुत बड़े एरिया में बने इस स्टूडियो में हिंदी सिनेमा के कई एक्टर्स ने काम किया है। इस स्टूडियो में मुगल सराय जं. का स्टेशन साफ तौर पर देखा जा सकता है।

स्टेशन के अंदर टिकट खिड़की, यात्रियों के लिए बैठने के लिए बैंच, प्लैटफॉर्म पर खड़ी रेल गाड़ी आदि सब बेहद शानदार कारिगरी के साथ बनाई गई है। इतना ही नहीं स्टेशन की टिकट खिड़की के ऊपर यात्रियों के लिए जानकारी भी लिखी हुई है। फिल्मी फिल्मोनिया नाम के यूट्यूब चैनल में वीडियो के माध्यम से बताया जाता है कि बहुत सारे शोज में इस नकली ट्रेन का इस्तेमाल किया गया है। वीडियो में ये भी बताया जाता है कि ट्रेन पर जो ‘दिल्ली-हावड़ा’ जगहों का नाम लिखा दिख रहा है, वह समय-समय पर फिल्म की शूटिंग के अनुसार बदल दिया जाता है।

ऐसे में इस एक ट्रेन को अब तक कई फिल्म और शो के सीन्स में इस्तेमाल किया जा चुका है। साल 2006 में आई फिल्म अपना सपना मनी-मनी की शूटिंग इसी स्टूडियो में हुई है। साल 2007 में करीना कपूर और शाहिद कपूर की फिल्म आई थी- ‘जब वी मेट’। इस फिल्म का वो ट्रेन वाला गाना तो याद होगा आपको – मौजां ही मौजां? इस फिल्म के कुछ अंश और गाने की शूटिंग भी इसी जगह हुई। इसके अलावा और भी कईं हिंदी फिल्मों की शूटिंग यहां कंप्लीट की गई जैसे- टीनू आनंद की साल 1981 में आई फिल्म ‘कालिया’, मनमोहन देसाई की साल 1977 में आई फिल्म ‘धर्म वीर’, 1981 में आई ‘नसीब’, 1983 में आई ‘रजिया सुल्तान’ और अमिताभ बच्चन, ऋषि कपूर और विनोद खन्ना स्टारर ‘अमर अकबर एंथॉनी’।

(और ENTERTAINMENT NEWS के लिए यहां क्लिक करें)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App