ताज़ा खबर
 

अक्षय कुमार की जॉली एलएलबी-2 पर कोर्ट की तल्ख टिप्पणी, कहा- आपने अदालत का मजाक बना दिया

बांबे हाईकोर्ट द्वारा इस फिल्म की समीक्षा करने के लिए तीन सदस्यीय पैनल के गठन के आदेश पर शीर्ष अदालत ने फिलहाल रोक लगाने से इनकार करते हुए हाईकोर्ट के पास जाने के लिए कहा था।

Author नई दिल्ली | February 5, 2017 1:43 PM
बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार।

बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार की फिल्म जॉली एलएलबी-2 रिलीज के लिए तैयार है, लेकिन फिल्म कानूनी दिक्कतों से अब तक निपट नहीं सकी है। फिल्म में एक सीन है जिसमें वकील जज की मेज पर कूद कर बहस करने लगता है। एक अन्य सीन में जज मेज के नीचे छिपा हुआ गेवल को मेज पर ठोकते हुए ऑर्डर-ऑर्डर कह रहा है, और लोगों को शांत रहने को कह रहा है। फिल्म के ट्रेलर में नजर आ रहे ये सीन लोगों को गुदगुदाने के लिए काफी हैं, लेकिन बॉम्बे हाई कोर्ट के जस्टिस वीएम कांदे और संगित्राओ पाटिल को फौरी तौर पर यह मजाकिया नहीं बल्कि भारतीय न्यायपालिका का मखौल उड़ाने वाला लगता है। इंदौर ने वकील अजय कुमार वाघमारे ने इस बारे में कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।

सुप्रीम कोर्ट ने अक्षय कुमार स्टारर फिल्म जॉली एलएलबी-2 के निर्माता को राहत देने से इनकार कर दिया है। बांबे हाईकोर्ट द्वारा इस फिल्म की समीक्षा करने के लिए तीन सदस्यीय पैनल के गठन के आदेश पर शीर्ष अदालत ने फिलहाल रोक लगाने से इनकार करते हुए हाईकोर्ट के पास जाने के लिए कहा था। इस पैनल को फिल्म देखकर यह समीक्षा करने के लिए कहा गया है कि क्या वाकई फिल्म में न्यायिक प्रक्रिया के साथ मजाक उड़ाया गया है? पैनल को सोमवार तक हाईकोर्ट को रिपोर्ट देना है। न्यायमूर्ति रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने निर्माता की ओर से पेश वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल से कहा कि वह हाईकोर्ट जाएं।

बेंच ने कहा- फौरी तौर पर तस्वीरें देख कर यह लगता है कि यह कोर्ट की पूरी तरह से बेईज्जती करने जैसा है, हम इतनी जल्दी नतीजे पर नहीं पहुंच सकते जब तक कि हम नहीं देख लेते कि इन दृष्यों को किन संदर्भों में दिखाया गया है। इस मामले में फॉक्स स्टार स्टूडियो के प्रोड्यूसर्स शुक्रवार को हाई कोर्ट पहुंचे और उनके वकील कपिल सिबल और सिद्धार्थ लूथरा ने जस्टिस रंजन गोगोई की बेंच से हाई कोर्ट के आदेश को किनारे करते हुए फिल्म के रिलीज की परमिशन मांगी क्योंकि सेंसर बोर्ड इसे पहले ही पास कर चुका है। हालांकि गोगोई ने इस बारे में कोई भी दखल कर पाने से इंकार करते हुए कहा- मिस्टर सिब्बल आप एक बार मुंबई क्यों नहीं चले जाते।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App