ताज़ा खबर
 

कर्फ्यू के बीच सिनेमा कारोबार में उम्मीद जगाती ‘स्त्री शक्ति’ ‘रूही’ ने कमाए 29 करोड़ रुपए

बीते साल 15 अक्तूबर से खुले सिनेमाघरों में अब तक जो भी मुंबइया हिंदी फिल्में रिलीज हुई हैं उनमें सबसे ज्यादा कारोबार जाह्नवी कपूर-राजकुमार राव की ‘रूही’ ने किया है। इन लगभग छह महीनों में किसी बड़े हीरो की फिल्म बॉक्स आफिस पर रिलीज नहीं हुई है। कोरोना के कारण रात के कर्फ्यू ने कारोबार को प्रभावित करना शुरू कर दिया है।

sabrang, entertainmentकोरोना काल में जब सब हार मान गए तब जाह्नवी कपूर ने हिम्मत दिखाई। (फोटो- जनसत्ता)

हे श्रीदेवी पुत्री जाह्नवी कपूर! आपकी सदा जय हो!!
आपने बॉलीवुड की नाक कटने से बचाई है। फिल्मवालों की इज्जत का भाजीपाला होने से बचाया। कोरोना काल में निर्माताओं को हौसला दिया। हीरो के नाम से चल रही मुंबई की फिल्म इंडस्ट्री में जब कोरोना मैया का प्रकोप हुआ तो सारे खान से लेकर पहलवान हीरो तक भाग खड़े हुए थे। कोई भी परदे पर प्रकट होने के लिए तैयार नहीं था। तब आपने यह हिम्मत दिखाई।

हे रूह में प्रवेश करने वाली ‘रूही’! आपकी सदा जय हो!! जब दुनिया में कोरोना मैया प्रकट हो रही थीं, सभी सिनेमाघर उसकी शान में बंद कर दिए गए थे। अमिताभ बच्चन अपनी फिल्म ‘गुलाबो सिताबो’ ओटीटी पर रिलीज कर रहे थे, तब आपने इंतजार किया। कष्ट सहन कर ‘रूही’ को सिनेमाघरों तक पहुंचाया। इसलिए समस्त बॉलीवुड आपके सामने नतमस्तक है।

हे बॉलीवुड की संजीवनी बूटी आपकी सदा विजय हो!
आपने ऊंघते, उनींदे सिनेमाघरों में नई जान फूंकी है। मरघटी सन्नाटे को तोड़Þा। लोगों को ओटीटी से सिनेमाघरों की ओर मोड़ा। सदियों तक आपका यह उपकार सिनेमाप्रेमी कभी नहीं भूल पाएंगे। आपकी माताश्री के नाम की पताका कभी बॉलीवुड में फहराती थी। फिल्मवाले इस पताका के सामने शीश नवाते थे। उन्होंने अमिताभ देवा के साथ ‘खुदा गवाह’ में काम करने की स्वीकृति दी थी तो अमिताभ ने एक ट्रक भर कर फूल उन्हें भिजवाए थे। हे रूहों को खुशी देने वाली रुही देवी, आपकी शान में भी यह बॉलीवुड इतने ही फूल चढ़ाता है, शीश नवाता है।

जब बॉलीवुड की ‘वंडर वूमन’ बॉक्स आॅफिस पर माल पीट रही थी। तब उसका मुकाबला करने के लिए दूर दूर तक कोई भी मूंछ वाला फटक नहीं रहा था। न खिलाड़ी हीरो, न खान न पठान। तब दर्शकों को हर्षाने वाली, निर्माताओं का दुख दूर करने वाली, शत्रुओं का संहार करने वाली आप जैसी देवी राज कुमार राव के साथ रूही बनकर ‘वंडर वूमन’ के सामने खड़ी हो गई, जिसके बाद दुश्मन दल के पांव उखड़ गए और बॉक्स आॅफिस पर आपकी जीत हुई। बॉलीवुड की इज्जत बच गई। हे बॉक्स आॅफिस बाला आपके नाम में इतना प्रताप है कि बॉलीवुड के निर्माता आजकल आपकूी वंदना कर रहे हैं। कोई कोई तो जाह्नवी सतसई और जाह्नवी हजारा तक लिख कर उसका पाठ कर रहे हैं। नारियल, चिरौंजी चढ़ा रहे हैं।

हे बोनी कपूर-पुत्री आपकी महिमा अमर रहे!
11 मार्च को सिनेमाघरों में ‘रूही’ बनकर आपके प्रकटीकरण के बाद से बॉलीवुड में हर्ष की लहर है। आपके नाम की ताकत से सिनेमाघरों में मेला लगने लगा। पहले ही दिन आपके प्रताप से तीन करोड़ की मुद्रा निर्माता दिनेश विजन और मृगद्वीप लांबा के बैंक खातों में पहुंंच गई थी। इस कृत्य से निर्माताद्वय प्रसन्न हैं। वे आपका एक चबूतरा बनवाना चाहते हैं, जिसके एक कोने पर एक पताका लहराती रहेगी। रोज सुबह-शाम चबूतरे पर असली घी का दीपक जलाया जाएगा। आपने हॉलीवुड के सामने बॉलीवुड की नाक कटने से बचाने का जो नेक काम किया है, वह सदियों तक याद किया जाता रहेगा।
बॉलीवुड में गीतकारों की एसोसिएशन ने तय किया है कि जल्दी ही आपकी आरती लिखी जाएगी, जिसकी किताबें प्रकाशित होंगी और हर शुक्रवार को बॉलीवुड के निर्माता आधा दिन का उपवास करेंगे, खट्टा नहीं खाएंगे और रात नौ बजे का शो शुरू होने से पहले आपकी आरती गाएंगे।

Next Stories
1 अगर माहौल से चुनाव जीता जाता तो 8 चुनाव नहीं हारते- आशुतोष ने BJP पर साधा निशाना, हुए ट्रोल
2 TMKOC: ‘दया भाभी का कैरेक्टर बहुत पसंद है..’ तारक मेहता की अंजलि भाभी क्या बनना चाहती हैं ‘दयाबेन’? सुनैना फौजदार ने दिया ये जवाब
3 पत्रकार ने मिथुन चक्रवर्ती से पूछा ‘क्या आप खुद को मोदी भक्त कहते हैं?’, तो एक्टर ने यूं किया रिएक्ट
ये पढ़ा क्या?
X