ताज़ा खबर
 

अपनी आंखों के सामने बड़े भाई को डूबते देखा था 10 साल के जैकी श्रॉफ ने, इस घटना ने बदल दी थी ज़िंदगी

जैकी श्रॉफ की छवि यूं तो एक बिंदास और बेपरवाह अभिनेता की है लेकिन बचपन में हुई एक घटना ने उन्हें मानसिक तौर पर हिला कर रख दिया था।

घटना के वक्त जैकी की उम्र महज 10 साल थी और वे अपने भाई से 7 साल छोटे थे।

जैकी श्रॉफ की ज़िंदगी किसी फ़िल्मी स्क्रिप्ट से कम नहीं है। उनके फ़िल्मों में आने का सफ़र और फिर बॉलीवुड में सुपरस्टार बन जाने की कहानी स्वप्न सरीखी सी लगती है। जैकी एक बॉर्न स्टायलिश इंसान हैं और वे इंडस्ट्री में अपने आप से ज़्यादा स्टायलिश केवल अपने दोस्त डैनी को मानते हैं। एक एस्ट्रोलॉजर के बेटे जैकी जब एक बस स्टैंड पर खड़े थे तो उन्हें देखकर किसी ने मॉडलिंग करने की सलाह दी थी। ऐसी ही एक सलाह उन्हें एक्टर बनने की भी मिली। जैकी के परिवार को आर्थिक संकट भी झेलना पड़ा लेकिन उनके भाई के साथ हुई एक घटना ने उनकी ज़िंदगी बदल कर रख दी थी।

जैकी ने अपने भाई को बचाने की कोशिश भी की थी लेकिन वो नाकामयाब रहे।

जैकी ने बताया कि ‘मेरे बड़े भाई असली जग्गू दादा थे। वो हमारे क्षेत्र के लोगों का ख्याल रखते थे और ज़रूरत पड़ने पर उन लोगों की मदद किया करते थे। मेरा भाई जब 17 साल का था, तो एक शख़्स को बचाने के लिए वो समंदर में कूद गया था। मेरे भाई को तैरना नहीं आता था लेकिन वो इतना उदार दिल था कि उसने इस बात की परवाह नहीं की और उस व्यक्ति को बचाने के लिए पानी में छलांग लगा दी। थोड़ी ही देर बाद मेरा भाई डूबने लगा। मैं ये देखकर बेहद घबरा गया। मैंने अपने भाई की तरफ एक केबल लाइन फ़ेंकी। उसने केबल लाइन को पकड़ लिया। कुछ सेंकेड्स तक वो उस केबल लाइन के सहारे तैरता रहा लेकिन वो केबल उसके हाथों से फ़िसल गई। मैं केवल 10 साल का था और मैंने अपनी आंखों के सामने अपने भाई को पानी में डूबते देखा।’

काजोल की बहन तनीषा ने साड़ी में कराया नया फ़ोटोशूट

उन्होंने कहा कि ‘मैं असहाय खड़ा था और बेहद डरा हुआ था। अपने भाई को अपनी आंखों से यूं जाते देखकर मेरी ज़िंदगी बदल गई थी। मैंने फ़ैसला किया था कि मैं अपने स्लम के क्षेत्र के लोगों की उसी तरह देखभाल करूंगा। मेरे पिता एस्ट्रोलॉजर थे, उन्होंने मेरे भाई को कहा था कि तुम्हें आज काम पर नहीं जाना चाहिए लेकिन वो गया और उसके साथ ये अनहोनी हो गई। इस हादसे के बाद मुझे संभलने में टाइम लगा। लेकिन इसके बाद मैं अपने परिवार और करीबी लोगों के प्रति और संवेदनशील हो गया था।’

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App