ताज़ा खबर
 

‘डीडीएलजे’ के 25 साल बाद ‘जब हैरी मेट सेजल’ में शाहरुख को उसी रोल में देखने क्यों जाऊंः कमाल आर खान

खुद को फिल्म समीक्षक बताने वाले केआरके यानि कमाल आर खान ने शाहरुख खान की अपकमिंग फिल्म 'जब हैरी मेट सेजल' के मिनी ट्रेलर्स की समीक्षा की है। केआरके के इसकी एक वीडियो यूट्यूब पर अपलोड की है।

Author नई दिल्ली | June 20, 2017 6:46 PM
केआरके ने जब हैरी मेट सेजल की कहानी के प्लॉट की तुलना दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे से करते हुए शाहरुक पर तंज कसा।

खुद को फिल्म समीक्षक बताने वाले केआरके यानि कमाल आर खान ने शाहरुख खान की अपकमिंग फिल्म ‘जब हैरी मेट सेजल’ के मिनी ट्रेलर्स की समीक्षा की है। केआरके के इसकी एक वीडियो यूट्यूब पर अपलोड की है। उन्होंने इस वीडियो में जब हैरी मेट सेजल की कहानी का प्लॉट तो बताया ही है, साथ ही साथ साल 1995 में आई फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ से तुलना भी की है। उन्होंनं कहा, “इस फिल्म में अनुष्का शर्मा गुजरात की रहने वाली लड़की के किरदार में हैं। दिलचस्प यह है कि अनुष्का की सगाई हो चुकी है और कुछ ही दिनों बाद उनकी शादी भी होने वाली है। वह शादी से पहले एक बार पूरा यूरोप घूमना चाहती हैं। इसी दौरान शाहरुख से उनकी मुलाकात होती है जोकि एक टूरिस्ट गाइडर हैं।”

केआरके आगे कहते हैं कि इस मुलाकात के बाद दोनों ही पूरा यूरोप कुछ ही दिनों में घूम लेते हैं। इसके बाद अनुष्का अपने मंगेतर को फोन करके बताती हैं कि अब वह इंडिया लौट रही हैं। लेकिन इसी दौरान अनुष्का को पता चलता है कि उनकी इंगेजमेंट रिंग कहीं गुम हो गई है। जब इस बात का पता उनके मंगेतर को चलता है तो वह बहुत गुस्सा होता है। वह अनुष्का से कहता है कि तुम वह इंगेजमेंट रिंग किसी भी कीमत ढूंढ़ के लाओ। इस बात से परेशान अनुष्का शाहरुख खान को इसमें मदद करने के लिए कहती हैं। इसके बाद शाहरुख और अनुष्का उन जगहों पर दोबारा जाते हैं, जहां-जहां वह घूमने गए हुए थे। इस दौरान इन दोनों को एक-दूसरे से प्यार हो जाता है। यहां पर अनुष्का को उसकी खोई हुई इंगेजमेंट रिंग मिल जाती है। मजेदार यह है कि यह रिंग उनके पर्स में ही पड़ी होती है।”

उल्लेखनीय है कि शाहरुख की फिल्म के तीन मिनी ट्रेलर्स अब तक रिलीज हो चुके हैं। इन ट्रेलर्स के आधार पर केआरके ने जब हैरी मेट सेजल की कहानी के प्लॉट की तुलना दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे से करते हुए शाहरुख पर तंज कसा। उन्होंने कहा, “25 साल पहलरे मैं आपको इस रोल में देख चुका हूं। इसलिए मैं दोबारा इसे क्यों देखने जाऊंगा। अगर मैं इस तरह के रोल निभाकर मैजिक पैदा करने की काबिलियत बची है तो आदित्य चोपड़ा ने फिल्म बेफिक्रे में रणवीर सिंह की जगह आपको क्यों नहीं लिया।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App