ताज़ा खबर
 

अनुराग कश्यप-तापसी पन्नू पर रेड के बाद IT डिपार्टमेंट ने पकड़ी 650 करोड़ से अधिक की गड़बड़ी, CBDT का दावा

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने दो फिल्म प्रोडक्शन कंपनियों, एक टैलेंट मैनेजमेंट कंपनी और एक दिग्गज अभिनेत्री पर छापेमारी के दौरान 650 करोड़ से अधिक की वित्तीय अनियमितताओं का पता लगाया है।

Anurag Kashyap, Tapsi Pannu, income taxफिल्ममेकर अनुराग कश्यप और एक्ट्रेस तापसी पन्नू (फाइल फोटो)

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने दावा किया है कि इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने दो फिल्म प्रोडक्शन कंपनियों, एक टैलेंट मैनेजमेंट कंपनी और एक दिग्गज अभिनेत्री पर छापेमारी के दौरान 650 करोड़ से अधिक की वित्तीय अनियमितताओं का पता लगाया है। हालांकि सीबीडीटी ने किसी का नाम नहीं लिया है। आपको बता दें कि सीबीडीटी का यह बयान ऐसे समय में आया है जब आईटी डिपार्टमेंट ने बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू, फिल्ममेकर अनुराग कश्यप और उनके पार्टनर्स के घर और दफ्तर में छापेमारी की हैं और पूछताछ की है।

इनकम टैक्स के अधिकारियों का कहना है कि यह छापेमारी फैंटम फिल्म्स के खिलाफ कर चोरी की जांच का एक हिस्सा है। उन्होंने बताया कि यह छापेमारी मुंबई और पुणे में 30 स्थानों पर की गई, जिसमें रिलायंस एंटरटेनमेंट ग्रुप के सीईओ शुभाशीष सरकार तथा सेलिब्रिटी और प्रतिभा प्रबंधन कंपनी केडब्ल्यूएएन (KWAN) के कुछ अधिकारी भी शामिल हैं।

सियासी घमासान भी शुरू: अनुराग कश्यप, तापसी और सिने जगत से जुड़े कई दिग्गजों पर छापेमारी के बीच इसपर सियासी घमासान भी मच गया है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘कुछ मुहावरे: उंगलियों पर नचाना- केंद्र सरकार आयकर विभाग, ईडी, सीबीआई के साथ ये करती है। भीगी बिल्ली बनना- केंद्र सरकार के सामने मित्र मीडिया। खिसियानी बिल्ली खंभा नोंचे- जैसे केंद्र सरकार किसान-समर्थकों पर रेड कराती है।’’

जावड़ेकर ने दिया जवाब: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक खबर का हवाला देते हुए आरोप लगाया, ‘‘सरकार मीडिया प्रबंधन को ही भूराजनीतिक रणनीति का विकल्प मानती है। इसकी कीमत चीन के साथ हमें चुकानी पड़ी है। इस रास्ते पर चलना भारत लिए भयावह है।’’ उधर, राहुल गांधी के ट्वीट के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने उनपर पलटवार किया।

जावड़ेकर ने ट्वीट किया, ‘‘राहुल गांधी जी, इन मुहावरों को भी याद करिये। 1. सौ चूहे खाकर बिल्ली चली हज को – आपातकाल में मीडिया की आजादी पर अंकुश लगाने वाली कांग्रेस का मीडिया की आजादी पर ज्ञान देना 2 – उंगली पर गिने जा सकना – कांग्रेस की मौजूदा स्थिति और चुनाव में स्थिति। 3- रंगा सियार – सबसे सांप्रदायिक पार्टी सेकुलरिज्म का ढोंग करती है; एक परिवार की पार्टी अब लोकतंत्र पढ़ा रही है।’’ (इनपुट- भाषा से भी)

Next Stories
1 बॉर्डर खाली कराने का जो दुस्साहस करेगा, उसका इलाज करेंगे किसान- राकेश टिकैत बोले, ‘इसे धमकी मान लो’
2 आप नहीं देखेंगे तो फ़िल्म रिलीज नहीं होगी- जब जिद पर अड़ गईं श्रीदेवी; बताते-बताते रो पड़े थे अमर सिंह
3 सलमान की को-एक्ट्रेस ने डायरेक्टर पर लगाया था रेप का आरोप, ड्रग्स तस्करी में आया नाम; जेल में की थी शादी
ये पढ़ा क्या?
X