ताज़ा खबर
 

राखी सावंत ने की ‘झांसी की रानी’ से खुद की तुलना

अपने विवादास्पद बयानों और मुखर स्वभाव के लिए चर्चित अभिनेत्री व आइटम गर्ल राखी सावंत ने कहा कि लोकतंत्र में किसी को डरने की जरूरत नहीं है, वह झांसी की रानी की तरह साहसी हैं।

Author मुंबई | April 8, 2017 2:27 AM
अपने बड़बोले बयानों के चलते चर्चा में रहने वाली ड्रामा क्वीन राखी सावंत गुरुवार को पंजाब की एक अदालत में बुर्का पहनकर पहुंची।

अपने विवादास्पद बयानों और मुखर स्वभाव के लिए चर्चित अभिनेत्री व आइटम गर्ल राखी सावंत ने कहा कि लोकतंत्र में किसी को डरने की जरूरत नहीं है, वह झांसी की रानी की तरह साहसी हैं। राखी इस समय अपने विवादास्पद बयान को लेकर सुर्खियों में हैं। उन पर एक अटपटा बयान देकर वाल्मीकि समुदाय की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगा है। राखी ने आईएएनएस ने कहा, “मैं सोचती हूं कि लोग मुझे जानबूझकर मेरे करियर को खत्म करने के लिए विवाद में खींच रहे हैं। मैंने किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए कुछ भी गलत नहीं कहा। यहां तक कि मैंने माफी के लिए एक वीडियो बनाया और इसे ऑनलाइन अपलोड किया है। उन्होंने कहा, “मैं झांसी की रानी की तरह साहसी हूं और उन सब लोगों से लडूंगी, जो मुझे विवाद में घसीट रहे हैं।”

यह पहली बार नहीं है कि वह अपने बयानों के लिए इस तरह की परेशानियों का सामना कर रही हैं। उनसे जब पूछा गया कि वह अपने ज्यादा बोलने के स्वभाव को बदलना चाहती हैं? राखी ने जबाव दिया, “क्यों? मुझे यह क्यों करना चाहिए? तब फिर लोकतंत्र में रहने का क्या मतलब है? क्या हमें बोलने की आजादी नहीं है? गुरुवार को राखी ने एक प्रेसवार्ता बुलाई थी, जिसमें उन्होंने खुद का बचाव किया। इससे पहले पिछले हफ्ते पंजाब पुलिस की टीम को उनके खिलाफ जारी गिरफ्तारी वारंट तामील कराने के लिए मुंबई भेजा गया था। यह वारंट लुधियाना के एक न्यायालय द्वारा जारी किया गया था।

HOT DEALS
  • Honor 7X 64 GB Blue
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback
  • Honor 7X 64 GB Blue
    ₹ 15390 MRP ₹ 17990 -14%
    ₹0 Cashback

पंजाब में एक न्यायालय ने अभिनेत्री के 9 मार्च को अदालत में उपस्थित न होने के कारण एक वारंट जारी किया था। दरअसल, उनके खिलाफ महर्षि वाल्मीकि के खिलाफ अपमानजनक बयान देने का आरोप लगा था। एक कार्यक्रम के दौरान अभिनेत्री ने महर्षि वाल्मीकि और गायक मीका सिंह में उनके व्यवहार परिवर्तन को लेकर तुलना की थी। इसके  खिलाफ वाल्मीकि समुदाय की ओर से भारी प्रतिक्रिया आई थी। उनसे पूछा गया कि वह फिल्म जगत से किसी का समर्थन ले रही हैं? राखी ने आईएएनएस से कहा, “पिछले वर्ष मैंने मीका के समर्थन के लिए एक प्रेस सम्मेलन किया था और आज जब मैं मुसीबत में हूं, उसने (मीका सिंह) इस मामले में पूछना भी उचित नहीं समझा। मैं दुखी हूं कि मीका ने मेरे लिए एक भी शब्द नहीं कहा। उन्होंने दावा किया कि उन्हें समर्थन के लिए आमिर खान और अनुपम खेर का मैसेज मिला है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App