scorecardresearch

International Film Festival: IFFI जूरी हेड ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ को बताया भद्दा और प्रोपेगेंडा पर आधारित फिल्म

International Film Festival: जूरी ने कहा कि इस फिल्म को यहां देखकर हम सभी हैरान हैं। इसे देखकर हमें लगा कि यह केवल एक प्रचार करने वाली और वल्गर फिल्म है।

International Film Festival: IFFI जूरी हेड ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ को बताया भद्दा और प्रोपेगेंडा पर आधारित फिल्म
ज्यूरी प्रमुख नदव लापिड ने एक दुष्प्रचार वाली फिल्म कहा है(फोटो सोर्स: Instagram)।

International Film Festival: इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया के जूरी हेड ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ को भद्दा प्रोपेगेंडा फिल्म बताया है। कश्मीर फाइल्स(The Kashmir files) फिल्म विवेक अग्निहोत्री की फिल्म है। इसे लेकर इजराइली फिल्म निर्माता और भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (IFFI) के जूरी प्रमुख नदव लापिड ने एक दुष्प्रचार वाली फिल्म कहा है। उन्होंने इस फिल्म की निंदा करते हुए इसे भद्दा भी कहा।

गौरतलब है कि फिल्म फेस्टिवल (Film Festival) में इस फिल्म की स्क्रीनिंग देखकर जूरी ने हैरानी जताई। जूरी ने कहा कि इस फिल्म को देखकर हम सभी हैरान हैं। इसे देखकर हमें लगा कि यह केवल एक प्रचार करने के लिए और वल्गर फिल्म है। इस तरह की फिल्में एक जाने माने फिल्म फेस्टिवल के एक कलात्मक, प्रतिस्पर्धी वर्ग के लिए ठीक नहीं है।

Film Festival– वल्गर श्रेणी का बताया

गोवा में मनाए जा रहे 53वें इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में बड़े-बड़े फिल्मी सितारों ने शिरकत की है। लेकिन इस बीच जब विवेक अग्निहोत्री की फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर जूरी और इजरायली फिल्ममेकर नादव लापिड ने दुष्प्रचार जैसी बातें कही तो सभी हैरान रह गए। दरअसल इस फिल्म को लेकर विवेक अग्निहोत्री का दावा है कि ‘द कश्मीर फाइल्स…’ के जरिए उन्होंने कश्मीरी पंडितों की आपबीती दिखाई है। मालूम हो कि इस फिल्म ने सिनेमाघरों में भी अच्छा कारोबार किया था। लेकिन इजरायल फिल्ममेकर ने इसे वल्गर श्रेणी का बताया है।

विवेक अग्निहोत्री के डायरेक्शन में बनी ‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर कहा गया कि 90 के दशक में घाटी में कश्मीरी पंडितों पर हुए अत्याचार की कहानी दिखाई गई है। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर ब्लॉकबस्टर हिट साबित हुई थी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबित इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस से 340 करोड़ रुपयों का कलेक्शन किया था।

वहीं नदव लापिड के बयान को लेकर पीडीपी प्रवक्ता मोहित भान ने कहा कि इस फिल्म को नफरत फैलाने के इरादे से बनाया गया था।

भारत सरकार द्वारा भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (IFFI) का आयोजन होता है। वहीं इस बार के IFFI समारोह में जूरी प्रमुख इजराइली फिल्म निर्माता नदव लापिड भी शामिल थे। कश्मीर फाइल्स को लेकर लापिड ने अपनी बात तब कही जब समारोह का समापन कार्यक्रम हो रहा था और भारत सरकार में मंत्री भी वहां मौजूद थे।

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 28-11-2022 at 10:10:00 pm
अपडेट