घरेलू हिंसा मामले में दूसरी बार भी कोर्ट में पेश नहीं हुए हनी सिंह, कोर्ट ने लगाई फटकार! दी आखिरी चेतावनी

ये दूसरी बार था जब हनी सिंह कोर्ट में पेश नहीं हुए। कोर्ट की अवमानना करने पर दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट की मजिस्ट्रेट तानिया सिंह ने कहा कि कोई भी व्यक्ति कानून से ऊपर नहीं है।

honey singh, domestic violence case against honey singh, shalini talwar
हनी सिंह घरेलू हिंसा मामले में आज भी कोर्ट में पेश नहीं हुए (File Photo)

रैपर हनी सिंह को दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट ने जबर्दस्त फटकार लगाई है। हनी सिंह पर उनकी पत्नी शालिनी तलवार ने घरेलू हिंसा का केस दर्ज़ किया है जिसे लेकर 28 अगस्त, शनिवार को उन्हें कोर्ट में पेश होना था। लेकिन वो कोर्ट के सामने पेश नहीं हुए। इस मामले में ये दूसरी बार था जब हनी सिंह कोर्ट में पेश नहीं हुए। कोर्ट की अवमानना करने पर दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट की मजिस्ट्रेट तानिया सिंह ने कहा कि कोई भी व्यक्ति कानून से ऊपर नहीं है।

हनी सिंह की पत्नी शालिनी तलवार कोर्ट में पेश हुईं थीं वहीं हनी सिंह स्वाथ्य कारणों का हवाला देकर कोर्ट की सुनवाई में हाजिर नहीं हुए। उनकी गैरहाजिरी पर मजिस्ट्रेट ने सख्त लहजे में कहा कि कोई भी कानून से ऊपर नहीं है। उन्होंने कहा, ‘कोई भी कानून से ऊपर नहीं है। मुझे आश्चर्य हो रहा है कि इस केस को इतना हल्के में लिया जा रहा है।’

साथ ही मजिस्ट्रेट तानिया सिंह ने हनी सिंह को अंतिम चेतावनी देते हुए कहा कि वो 3 सितंबर को साढ़े बारह बजे कोर्ट में पेश हों। कोर्ट ने हनी सिंह के वकील से नाराजगी जताते हुए कहा कि न तो हनी सिंह आएं और न ही उन्होंने अपने इनकम टैक्स का एफिडेविट फाइल किया। कोर्ट ने उन्हें दलीलों के साथ न प्रस्तुत होने पर भी फटकार लगाई।

वहीं वकील ने कोर्ट को आश्वासन दिया किया कि अगली सुनवाई में खुद हनी सिंह प्रस्तुत होंगे और वो इनकम टैक्स की पूरी डिटेल भी पेश करेंगे।

बता दें, हनी सिंह की पत्नी शालिनी तलवार ने उन पर यौन हिंसा, मानसिक उत्पीड़न और आर्थिक हिंसा का आरोप लगाते हुए प्रोटेक्शन ऑफ वूमेन फ्रॉम डिमेस्टिक वायलेंस के तहत 20 करोड़ रुपए हर्जाने की मांग की थी। उन्होंने इस मामले में हनी सिंह के परिवार पर भी आरोप लगाए थे। हनी सिंह और शालिनी तलवार की शादी साल 2011 में हुई थी जिसे साल 2014 में सार्वजनिक किया गया।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट