ताज़ा खबर
 

शूटिंग पर देर से पहुंचते थे किशोर कुमार, तो सबक सिखाने को डायरेक्टर ने उनके यहां पड़वा दिया था छापा

वाकया 1962 के आस-पास का है। फिल्म हाफ टिकट की शूटिंग होती थी। किशोर दा...

Author Updated: August 4, 2019 9:39 AM

हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में किशोर कुमार कमाल के कलाकार थे। कंप्लीट पैकेज कहिए उन्हें। सिंगिंग, एक्टिंग, कंपोजिंग, प्रोडक्शन, डायरेक्शन और स्क्रीन राइटिंग। सब कुछ कर लेते। आखिर वह अलबेले जो थे। मगर थोड़े सनकी भी थे। उन्होंने एक डायरेक्टर को दो घंटे कमरे में बंद कर दिया था। सिर्फ और सिर्फ बदला लेने के लिए। वाकया 1962 के आस-पास का है। फिल्म हाफ टिकट की शूटिंग होती थी। किशोर दा अक्सर सेट पर देर से जाते थे। कभी तो गायब भी रहते थे। चूंकि उस दौरान वह कई फिल्में कर रहे थे। डायरेक्टर कालिदास उनकी इस आदत से तंग थे। ऐसे में उन्होंने उन्हें सबक सिखाने की सोची।

अच्छा, तब अफवाह उड़ी हुई थी कि किशोर दा पूरा आय कर नहीं जमा करते। कालिदास ने यह बात आयकर विभाग के दफ्तर पहुंचवा दी। फिर क्या था, किशोर दा के यहां छापा पड़ा। वह इस बहुत झल्लाए थे। उन्होंने भी अपनी कसर निकालना चाही, बदले के रूप में।

डायरेक्टर को एक दिन चाय पर बुलाया। फिल्म पर बातचीत की। जाने की बारी आई, तो अचानक रोका और खुद कुंडी लगाकर चले गए। डायरेक्टर इस दौरान खूब चिल्लाए-चीखे, लेकिन दरवाजा नहीं खुला। दो घंटे तक वह अंदर ही बंद रहे थे। फिर कुछ देर बाद किशोर दा ने मर्जी से दरवाजा खोला। वह बोले थे- अब दोबारा मेरे घर मत आना। हालांकि, इस वाकये के बाद उन्होंने फिल्म पूरी की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 क्या श्रद्धा कपूर की फिल्म हसीना पारकर में लगा है अंडरवर्ल्ड का पैसा?
2 फैंस को भा रहा है जाह्नवी कपूर का ये सादगी भरा अंदाज, देखें तस्वीरें
3 हसीना पारकरः फिल्म करने से पहले हसीना और अंडरवर्ल्ड के बारे में जानती तक नहीं थीं श्रद्धा कपूर