ताज़ा खबर
 

भारतीय महिलाएं किसी शहजादे के इंतजार में नहीं हैं: रोहना गेरा

निर्देशक रोहना गेरा का कहना है कि उनकी पहली फिल्म ‘इज लव एनफ? सर’ एक प्रेम कहानी के रूप में ही बननी थी। गेरा की फिल्म में दिखाया गया है कि भारत में वर्ग किसी व्यक्ति को किस प्रकार प्रभावित करता है। फिल्म को 2018 के कान फिल्म महोत्सव में दिखाया गया था और इसे गैन फाउंडेशन पुरस्कार मिला था। भारत में 13 नवंबर को रिलीज होने से पहले यह फिल्म दुनिया के 25 देशों में प्रदर्शित की जा चुकी है।

Directorरोहना गेरा।

तिलोत्तमा शोम और विवेक गोम्बर अभिनीत इस फिल्म को मार्च में रिलीज होना था लेकिन महामारी के कारण योजना में परिवर्तन करना पड़ा। हालांकि, गेरा ने फिल्म को भारत में रिलीज करने का निश्चय कर लिया था। क्या वे प्रेम कहानी पर ही आधारित फिल्म बनाना चाहती थीं, निर्देशक ने कहा, ‘बिलकुल। मैंने इसे प्रेम कहानी के रूप में ही लिखना शुरू किया था।’ ‘सर’ की कहानी एक विधवा घरेलू सहायिका रत्ना और अमेरिका से लौटे उसके नियोक्ता अश्विन के बीच पनपने वाले प्यार के कोमल अहसास के इर्द गिर्द बुनी गई है।

गेरा ने कहा कि रत्ना के चरित्र को किसी असहाय के तौर पर नहीं एक विकसित व्यक्तित्व के रूप में दिखाएं। उन्होंने कहा कि रत्ना कोई सिंड्रेला नहीं है जो अपनी रिहाई के लिए किसी शहजादे में इंतजार में है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 खबर कोना: मारोडोना के निधन पर फिल्म सितारों ने कहा, हमेशा याद आएंगे डिएगो
2 हमारी याद आएगी: मोहम्मद अजीज, दशक भर में ही धुंधला गईं मोहम्मद रफी की परछाइयां
3 रुपहला पर्दा: ऑस्कर के लिए भारत की तरफ से ‘जलीकट्टू’ फिल्म, 27 प्रविष्टियों में से चुना गया इस फिल्म को
ये पढ़ा क्या?
X