बोलिये गणपति बप्पा मोरिया- लाइव डिबेट में AIMIM नेता से कहने लगीं बीजेपी प्रवक्ता, मिला ज़वाब तो बोलीं- मैंने थूककर चाटा नहीं

बीजेपी नेता नूपुर शर्मा- वारिस पठान से कहने लगीं कि- गणपति बप्पा मोरिया आप बोलिए जरा। तो वहीं AIMIM के प्रवक्ता भी बोले कि आप भी पहले ‘ला इलाहा इल्लल्लाह मोहम्मद रसूलल्लाह’ बोलके दिखाइए!

BJP, AIMIM, ENTERTAINMENT NEWS
बीजेपी की प्रवक्ता नूपुर शर्मा (फोटो सोर्स- फाइल फोटो)

टाइम्स नाऊ नवभारत की लाइव डिबेट में बीजेपी की प्रवक्ता नूपुर शर्मा और AIMIM प्रवक्ता वारिस पठान के बीच तगड़ी बहस छिड़ गई। शो ‘सवाल पब्लिक का’ में दोनों प्रवक्ताओं के बीच काटे की टक्कर हुई, जिसमें बीजेपी नेता वारिस पठान के लिए बोल पड़ीं-‘मैंने थूक कर चाटा नहीं, आपने किया था’। दरअसल, नूपुर शर्मा- वारिस पठान से कहने लगीं कि- गणपति बप्पा मोरिया आप बोलिए जरा। तो वहीं AIMIM के प्रवक्ता भी बोले कि आप भी पहले ‘ला इलाहा इल्लल्लाह मोहम्मद रसूलल्लाह’ बोलके दिखाइए!

बीजेपी नेता नूपुर शर्मा कहती हैं- ‘जो ओवैसी ने अपनी स्पीच में कहा है वो तो दिखला देता है कि इनकी राजनीति क्या है, वारिस भाई पहले बोलिए-गणपति बप्पा मेरिया। आप बोलेंगे? आप कहते हैं ना कि धर्म, जाति और तुष्टिकरण की राजनीति नहीं करते? जरा बोलिए?’

वारिस पठान कहते हैं- ‘पेट्रोल जिंदा बाद, डीजल जिंदाबाद बोलिए, आप भी बोलिए ना नूपुर जी? आप इसी में रह गए। क्या गणपति बप्पा मोरिया बोलने से जो लाखों जानें चली गईं, गंगा घाट में क्या वो वापस आ जाएंगी? अगर आ जाएंगी तो कोई नहीं, मैं बोलता हूं। जो लाखों लोगों के रोजगार छीन लिए गए, उनका क्या? मैं आपके बोलने से क्यों बोलूं? आप बोलिए ‘ला इलाहा इल्लल्लाह मोहम्मद रसूलल्लाह’, आप नहीं बोलेंगे, मैं क्यों बोलूं आपकी कही बात क्यों मानूं? धार्मिक राजनीति करने में तो बीजेपी ने और आप लोगों ने पीएचडी की हुई है।’

इस बात पर भड़कते हुए बीजेपी नेता कहती हैं-‘इन्होंने पूरी डिबेट का टॉपिक चेंज कर दिया, देखिए मैंने थूककर चाटा नहीं?’ तभी वारिस पठान नूपुर शर्मा के बीच में बोलने लगते हैं, तो नूपुर शर्मा कहती हैं कि ‘ये डिबेट करने का तरीका नहीं है, नविका जी मैं नहीं बोल रही।’

एआईएमआईएम प्रवक्ता कहते हैं- ‘अच्छा बताइए किससे माफी मांगी हमने? कब माफी मांगी?’ नूपुर शर्मा फिर कहती हैं ‘आप गणपति बप्पा मोरिया बोलिए!’ तभी वारिस पठान कहते हैं- ‘आप बोलिए ना पहले ‘ला इलाहा इल्लल्लाह मोहम्मद रसूलल्लाह’। अगर मेरे बोलने से उन लाशों का जीवन वापस आ जाता है जो गंगा घाट पर तैर रही थीं, तो मैं जरूर बोलूंगा। आप गंगा, नंगा मंदिर की बात करेंगे, अरे आप लोग तो पाखंडी लोग हो नूपुर जी! आपने राम के नाम पर वोट लिया, आप राम के नाम पर सत्ता में आए। आपने राम का मंदिर बनाने के नाम पर वोट लिया।’

तभी नविका कुमार बीच में टोकते हुए एआईएमआईएम के प्रवक्ता को कहती हैं- ‘वारिस पठान जी कम से कम डिबेट में तो लोकतंत्र रहने दीजिए। नूपर जी बोल रही हैं बोलने तो दीजिए।19% वोट में जैसे मांग रहे थे वैसे ही थोड़ा सा समय उस 19% के हिसाब से बोलने के लिए नूपुर जी को दे दीजिए।’ इस पर नूपुर कहती हैं- ‘ये इसलिए नहीं बोलने देना चाहते क्योंकि ये 15 करोड़ मुसलमान और 100 करोड़ हिंदुओं पर हावी होना चाहते हैं।’

नूपुर के जवाब में AIMIM के प्रवक्ता कहते हैं- ‘राम जाने, मस्जिद को तोड़ दो, देश के गद्दारों को गोली मारो, वो सब क्या था नूपुर जी? आप क्यों क्रेडिट ले रहे हो मंदिर का मुझे समझ नहीं आ रहा है!’ इस पर एक बार फिर से नविका कुमार वारिस पठान को टोकते हुए कहती हैं- ‘पठान साहब आप पहली बार इस डिबेट में आए हैं, आपका स्वागत किया, आपका इस्तेक्बाल किया। आप आए हैं तो जरूर छाइए पूरे चैनल पर छाइए, पूरी दुनिया पर छाइए, पूरे उत्तर प्रदेश पर छाइए, पर इतना भी नहीं कि आप किसी को बोलने न दें, नूपुर जी भी कुछ कह रही हैं।’

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट