गाय के कल्याण से ही देश का कल्याण होगा- बोले बॉलीवुड एक्टर तो लोग करने लगे ऐसे सवाल

फिल्म एक्टर गजेंद्र चौहान ने कहा है कि ‘गाय के कल्याण से ही देश का कल्याण होगा।’

cow, UP
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)

बॉलीवुड एक्टर गजेंद्र चौहान सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं। हाल ही में उन्होंने एक ट्वीट किया है जिनमें वह ‘गाय को राष्ट्र पशु घोषित’ करने की बात का समर्थन करते दिख रहे हैं। दरअसल, गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करने की मांग सोशल मीडिया पर फिर से उठनी शुरू हो गई है। जिसके समर्थन में एक्टर गजेंद्र चौहान भी उतरे हैं।

फिल्म एक्टर गजेंद्र चौहान ने अपनी पोस्ट में कहा कि ‘गाय के कल्याण से ही देश का कल्याण होगा।’ गजेंद्र चौहान के इस पोस्ट पर ढेरों लोगों के कमेंट्स आने लगे। रिएक्शन देते हुए मोहम्मद एफ्तेखार नाम के एक यूजर बोल- ‘खाली ट्विटर पर लिखने से गाय का कल्याण नहीं होगा, यूपी की जितनी गाय रोड पर घूम रही हैं, उन सब को शरण दे दो यही बहुत काफी होगा।’

अनुराग सिंह नाम के यूजर ने कहा- कितनी गाय की सेवा करते हैं आप? राजीव श्रीवास्तव बोले- ‘गाय का दूध निकालकर सड़क पर छोड़ देने से भी कल्याण नही होगा।’ इंडियन नाम के एक अकाउंट से कमेंट आया- ‘मां पशु कब से हो गई?’ अश्फाक अली खान नाम के यूजर बोले- ‘इसका समर्थन करते हैं, गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करने की मांग करते हैं।’

बता दें, इलाहाबाद हाई कोर्ट ने बुधवार को कहा था कि गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करने के लिए सरकार को संसद में एक विधेयक लाना चाहिए। दरअसल, एक व्यक्ति को जमानत देने से इनकार करते हुए यह टिप्पणी की गई। उत्तर प्रदेश में गौहत्या रोकथाम अधिनियम के तहत आरोप लगाये गये थे। इसी के बाद से सोशल मीडिया पर ‘राष्ट्रीय पशु गौ माता’ ट्रेंड कर रहा है।

इलाहाबाद हाई कोर्ट के जज शेखर कुमार यादव ने कहा था कि गाय को मौलिक अधिकार देने और गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करने के लिए सरकार को विधेयक लाना चाहिए। उन्होंने ये भी कहा कि ‘गाय को नुकसान पहुंचाने की बात करने वालों को दंडित करने के लिए सख्त कानून बनाना चाहिए।’

कोर्ट ने कहा, “गोरक्षा का कार्य केवल एक धार्मिक संप्रदाय का नहीं है, बल्कि गाय भारत की संस्कृति है और संस्कृति को बचाने का कार्य देश में रहने वाले हर नागरिक का है, चाहे वह किसी भी धर्म का हो।”

इसके अलाावा गजेंद्र चौहान अपनी एक अन्य पोस्ट में मोदी सरकार के पक्ष में बोलते नजर आए कि विपक्ष उनपर उंगली उठाने का कोई मौका नहीं छोड़ा लेकिन अच्छा काम होने पर नजरअंदाज किया जाता है। एक्टर ने अपने पोस्ट में कहा कि ‘GDP, विकास दर या वैक्सीनेशन ड्राइव, इनमें से जब भी कोई कम होता हैं तो विपक्षी दल इसके लिए मोदी जी को जिम्मेदार ठहराते हैं, लेकिन जब ये चीजे बढ़ती हैं तो मोदी जी को क्रेडिट नहीं देते। आखिर यह दोहरा चरित्र क्यो?’

इस पर संजय साहा नाम के एक यूजर बोले- ‘जब GDP और विकास दर में कोरोना और lockdown के चलते गिरावट आई तो मोदी सरकार जिम्मेदार। लेकिन जब इनमें तेजी आई तो उसका श्रेय मोदी जी को नहीं जाता। आखिर ऐसा ढोंग विपक्ष वाले कर कैसे लेते है?’ मयंक यादव बोले- ‘एक ही काम तो अच्छा करता है विपक्ष।’ पाठक नाम के शख्स ने कहा- ‘इंडियन इकोनॉमी एक नई ऊंचाई की ओर अग्रसर है। मोदी है तो मुमकिन है।’

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।