ताज़ा खबर
 

दो लड़कियों के प्रेम की विवादित उर्दू कहानी पर बनेगी फिल्‍म ‘लिहाफ’, आया पहला लुक

ये फ़िल्म इस मायने में भी खास है क्योंकि ये फ़िल्म मशहूर लेखक इस्मत चुगतई की सबसे विवादास्पद कहानी लिहाफ़ पर बन रही है। इस फ़िल्म के द्वारा भारतीय परिवारों में समलैंगिकता जैसे संवेदनशील विषय को छूने की कोशिश की गई है।

लिहाफ़ इस्मत चुगतई की विवादास्पद कहानी पर आधारित है

कान फ़िल्म फ़ेस्टिवल में राहत काज़मी की बहुप्रतीक्षित फ़िल्म लिहाफ़ का फ़स्ट लुक पोस्टर जारी किया गया है। ये फ़िल्म इस मायने में भी खास है क्योंकि ये फ़िल्म मशहूर लेखक इस्मत चुगतई की सबसे विवादास्पद कहानी लिहाफ़ पर बन रही है। इस फ़िल्म के द्वारा भारतीय परिवारों में समलैंगिकता जैसे संवेदनशील विषय को छूने की कोशिश की गई है। इस फ़िल्म का पोस्टर 12 मई को जारी किया गया था।

इस पोस्टर के शॉट में एक बेड पर दो महिलाओं के पैरों को दिखाया गया है। पायलों से सुसज्जित ये पैर पोस्टर को बेहद कलात्मक बनाने में कामयाब हुए हैं।

ये फ़िल्म दरअसल एक छोटी सी लड़की की कहानी है जो अपनी एक आंटी, बेगम जान से मिलने जाती है और उसके साथ कुछ दिन बिताती है। उसे एहसास होता है कि बेगम जान का शौहर नवाब समलैंगिक है। अपने पति द्वारा दुत्कार दी गई बेगम को रब्बो का सहारा मिलता है। बेगम और रब्बो के बीच आंतरिक पलों को देखने के बाद किशोर लड़की सहम जाती है।

निर्देशक काज़मी ने कहा कि लिहाफ़ दरअसल कहानी है एक महिला की, जिसे अपने परिवार में खास तवज्जो नहीं मिलती। भावनात्मक रूप से परेशान रहने वाली इस महिला को मालिश करने वाली एक महिला का सहारा मिलता है। इन दोनों महिलाओं के संबंधों को एक किशोर लड़की की नज़रों से दिखाने की कोशिश की गई है। फ़िल्म में एक समलैंगिक जमींदार अपनी पत्नी को दरकिनार करता है, जिसके चलते महिला अपनी सेक्शुएलिटी को एक्स्पलोर करने की ठानती है।

तनिष्ठा चटर्जी इस फ़िल्म में चुगतई का रोल निभा रही हैं वहीं सोनल सहगल, ‘बेगम’ और नमिता लाल ‘रब्बो’ का किरदार कर रही हैं। लिहाफ़ को राहत काज़मी और सोनल सहगल ने लिखा है। फ़िल्म ‘नो मैन लैंड’ के लिए ऑस्कर जीत चुके निर्माता मार्क बैसचेट भी इस फ़िल्म के प्रोड्यूसर्स में से एक हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App