scorecardresearch

शिवलिंग तो मिल गया ना?- वाराणसी में बिजली की समस्या पर फिल्ममेकर ने ली चुटकी तो लोगों ने कर दी खिंचाई

वाराणसी में बिजली कटौती पर फिल्ममेकर विनोद कापड़ी ने तंज कसते हुए लिखा है कि “शिवलिंग तो मिल गया है ना”

Gyanvapi-Mosque
ज्ञानवापी मस्जिद (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस)

एक तरफ ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर विवाद खड़ा हुआ है तो दूसरी तरफ प्रदेश बिजली की समस्याओं से गुजर रहा है। प्रदेश के कई जिलों में बिजली की कटौती हो रही है और बिजली से जुड़ी समस्याओं को लेकर लोगों में नाराजगी भी देखने को मिल रही है। वाराणसी में बिजली सेवा बाधित हुई तो फिल्ममेकर विनोद कापड़ी ने तंज कसा है।

पत्रकार पियूष राय ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘वाराणसी के कुछ इलाकों में बिजली गुल हो गई है। यूपी में बिजली विभाग की हालत खराब एके शर्मा के नेतृत्व में कुछ ही समय में बद से बदतर हो गई है।’ इस पर प्रतिक्रिया देते हुए विनोद कापड़ी ने लिखा कि ‘वाराणसी और पूरे देश को खुश रहना चाहिए कि बिजली आए या ना आए, शिवलिंग तो मिल गया है।’

लोगों की प्रतिक्रियाएं: प्रमोद नाम के यूजर ने लिखा कि ‘यदि तुम्हें इन विवादों से इतनी पीड़ा होती है तो दुःख में अन्न जल त्याग दो, जैसे गांधी जी किया करते थे।’ अमीरा नाम के यूजर ने लिखा कि ‘जब लोग बिजली जाने को रिपोर्ट करने लगें तो मान लीजिए कि इनको बिजली में रहने की आदत पड़ गयी है।’ रामेश्वर नाम के यूजर ने लिखा कि ‘तुम हमेशा विपरीत दिशा में क्यों चलते हो? इतनी निगेटिविटी के साथ कैसे रह लेते हो?’

एक यूजर ने लिखा कि ‘दिल्ली, पंजाब और पूरे देश को खुश रहना चाहिए कि बिजली आए या ना आए, लेकिन झूठी स्कीम देते रहेंगे। दिल्ली से शुरू हुई थी अभी केरल पहुंची है।’ राजेश नाम के यूजर ने लिखा कि ‘औरंगजेब के जमाने में कौन सी बिजली थी, जो उसने फव्वारा बना दिया था। शिवलिंग को फव्वारा मान लोगे पर उसे शिवलिंग नहीं।’ जीतेन्द्र नाम के यूजर ने लिखा कि ‘2016 से पहले यूपी में दस घंटे बिजली आती थी तब खुश थे, लेकिन अब दस मिनट को भी चली जाए तो पेट में दर्द।’

धर्मेन्द्र सिंह नाम के यूजर ने लिखा कि ‘हाल की राजनीति के परिणाम से यही समझ आता है कि संकट,महंगाई-बेरोजगारी आती जाती है लेकिन शिवलिंग बार बार नहीं आते हैं, वरना नोटबंदी के हायतौबा के तुरंत बाद हुए यूपी चुनाव में बीजेपी की शानदार जीत हुई, बेरोजगारी-महंगाई की मार, एयर स्ट्राइक से बीजेपी गठबंधन 350 के पार,पाताल में गये सब मुद्दे?’ नीरज सोनी नाम के यूजर ने लिखा कि ‘कापड़ी जी आपको शिवलिंग से तकलीफ है, या बिजली से या सरकार से, पहले ये साफ कीजिए! वाराणसी के लोगों को महंगाई व बिजली की समस्या के लिए सरकार से नाराज होने का भी हक है और शिवलिंग मिलने पर खुश होने का भी। आप खुश नहीं? जाहिर है!’

बता दें कि ज्ञानवापी मज्सिद में सर्वे करने के लिए वाराणसी कोर्ट ने आदेश दिया था। सर्वे के बाद कुछ लोगों द्वारा ये दावा किया गया कि मस्जिद में मौजूद वजू वाले स्थान पर शिवलिंग प्राप्त हुआ है। ये जानकारी सामने आते ही, सोशल मीडिया पर लोग ‘बाबा मिल गये’ लिखने लगे। वहीं मस्जिद की कमेटी द्वारा दावा किया गया है कि वो शिवलिंग नहीं बल्कि एक फव्वारा है।

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट