ताज़ा खबर
 

फन्ने खान: ‘अच्छे दिन’ गाने पर बढ़ा विवाद लेकिन ये है हकीकत

FANNEY KHAN: इस गाने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नारे का इस्तेमाल किया गया था 'अच्छे दिन'। ऐसे में गाने में सवाल पूछा गया है- मेरे अच्छे दिन कब आएंगी। सोशल मीडिया यूजर्स इस गाने के कुछ हिस्सों को सोशल प्लैटफॉर्म पर वायरल कर के केंद्र सरकार का मजाक बनाने लगे।

FANNEY KHAN में अनिल कपूर

FANNEY KHAN: जल्द ही ऐश्वर्या राय बच्चन, अनिल कपूर और राजकुमार राव की फिल्म ‘फन्ने खां’ रिलीज होने जा रही है। कुछ वक्त पहले ही फिल्म का एक गाना सामने आया था- ‘अच्छे दिन’। गाना रिलीज होते के साथ ही काफी पॉपुलर हो गया। यह गीत एक टैक्सी ड्राइवर अपनी जिंदगी को और बहतरीन बनाने के सपने को देखते हुए गाता है। यही गाना अचानक gifs और हैशटैग बनकर सोशल मीडिया पर छाया हुआ था। सोशल यूजर्स ने इस गाने की लाइन ‘अच्छे दिन’ के चलते इसे ट्रोल करना शुरू कर दिया।

दरअसल, इस गाने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नारे का इस्तेमाल किया गया था ‘अच्छे दिन’। ऐसे में गाने में सवाल पूछा गया है- मेरे अच्छे दिन कब आएंगी। सोशल मीडिया यूजर्स इस गाने के कुछ हिस्सों को सोशल प्लैटफॉर्म पर वायरल कर के केंद्र सरकार का मजाक बनाने लगे। लेकिन इसके बाद अब फिल्म में इस्तेमाल किए गए इस गाने के बाद एक और गाना सामने आया है। इसी फिल्म के इस गाने को नए वर्जन में फिर से दर्शकों के सामने प्रस्तुत किया गया है। इस बार गाने में कहा जा रहा है- मेरे अच्छे दिन अब आए रे।

पीटीआई के मुताबिक फिल्म के डायरेक्टर अतुल मांजरेकर ने बताया, यह गाना इस फिल्म का हिस्सा था और रहेगा। दोनों ही गानों को इस फिल्म में जगह दी गई है। यह एक स्वतंत्र गीत है। यह कहानी बताने वाले के ऊपर लिखा गया गीत है। बाकी सारे गाने फिल्म की स्टोरी पर बेस्ड हैं। आपको बता दें, ‘अच्छे दिन आने वाले हैं’ यह बीजेपी का स्लोगन है। इस स्लोगन का इस्तेमाल साल 2014 के चुनावों के वक्त किया गया था।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App