चुनाव हारने पर सब्जियों की होम डिलीवरी भी होगी- UP में तेल के दाम घटने पर पूर्व IAS ने ली चुटकी, बोले- खेल खत्म है

खाद्य तेल के दाम में हुई कमी पर पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने चुटकी लेते हुे लिखा कि चुनाव हारने के बाद सब्जियों की डिलीवरी भी होगी।

ias surya pratap singh, unemployement, cmie
पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

पेट्रोल-डीजल के दामों में आई कमी के बाद सरसों के तेल में भी गिरावट आई है। यूपी में सरसों के तेल में करीब पांच से दस रुपये की कमी देखने को मिली थी। इस कटौती के कारण थोक बाजार में सरसों के तेल के दाम में प्रत्येक टीन के हिसाब से 50 से 60 रुपये की गिरावट आई थी। इस बात को लेकर अब पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने चुटकी लेते हुए लिखा कि चुनाव हारने के बाद सब्जियों की होम डिलीवरी भी की जाएगी।

पूर्व आईएएस का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। उन्होंने ट्वीट में खाद्य तेल के दाम में आई कमी पर लिखा, “अभी तो बस पेट्रोल टूटा है, अगला सर्वे आते-आते सरसों के तेल का दाम भी कम होगा और यूपी चुनाव हारने के बाद तो आपके घर पर होम डिलीवरी होगी सब्जियों की।”

पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह यहीं नहीं रुके, उन्होंने सी-वोटर सर्वे में भाजपा के प्रदर्शन पर भी तंज कसा। सूर्य प्रताप सिंह ने लिखा, “अगर सी-वोटर भी ‘जैसे-तैसे’ और ‘डर-डर’ कर उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बना रहा है तो इसका मतलब है कि खेल खत्म है। ये प्रशासनिक अत्याचार और नेतृत्व के अहंकार का नतीजा है।”

सूर्य प्रताप सिंह ने अपने ट्वीट में आगे लिखा, “2022 में पिछड़ों की आंधी आने जा रही है, ऐसे वोटर जो टीवी और ट्विटर पर नहीं बोलते, सीधा वोट की चोट देते हैं।” बता दें कि उत्तर प्रदेश की कुल विधानसभा सीटें 403 हैं, लेकिन सर्वेक्षण के मुताबिक भाजपा को जहां 213 से 221 सीटें मिल रही हैं तो वहीं सपा के हाथ 152 से 160 सीटें मिल रही हैं।

इससे इतर बहुजन समाज पार्टी को चुनाव में जहां 16-20 सीटें मिलने की उम्मीद हैं तो वहीं कांग्रेस को 6 से 10 सीटें मिलने की आशंका है। सर्वेक्षण के अनुसार भाजपा को चुनाव में 41 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं, समाजवादी पार्टी को 31 प्रतिशत वोट, बसपा को 15 प्रतिशत वोट और कांग्रेस के खाते में नौ प्रतिशत वोट आ सकते हैं।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट