लाज बची हो तो CM योगी इस्तीफा दें- लखीमपुर की घटना पर बोले पूर्व IAS, कुमार विश्वास ने यूं साधा निशाना

रिटायर्ड आईएएस अफसर ने ट्वीट करते हुए यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ से इस्तीफे की मांग की। तो वहीं किसानों की मौत की खबर पर कुमार विश्वास भी बुरी तरह भड़कते दिखे।

Ex IAS Surya Pratap Singh, Kumar Vishwas, Surya Pratap Singh
यूपी के लखीमपुर में किसानों ने भाजपा नेता की गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। (फोटोः ANI)

लखीमपुर में किसानों को गाड़ी से कुचलने के मामले में कवि कुमार विश्वास और पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने गुस्से से भरी प्रतिक्रिया दी है। रिटायर्ड आईएएस अफसर ने ट्वीट करते हुए यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ से इस्तीफे की मांग की। तो वहीं किसानों की मौत की खबर पर कुमार विश्वास भी बुरी तरह भड़कते दिखे।

पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने अपने पोस्ट में तंज कसते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ के लिए कहा- ‘लोक-लाज बची है तो CM योगी इस्तीफ़ा दें।’ सूर्य प्रताप सिंह एक अन्य पोस्ट पर बिफरते हुए बोले- ‘लखीमपुर खीरी की घटना स्वतंत्र भारत के इतिहास की सबसे दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। इसकी निंदा, आलोचना या भर्त्सना कर आगे नहीं बढ़ना है, सत्याग्रह के रास्ते पर चलते हुए एक ऐसा उदाहरण बनाना होगा जिसके बाद किसी में इतनी हिम्मत ना हो कि वह किसानों को कमजोर समझने की भूल भी करे।’

कवि कुमार विश्वास ने भी कहा- ‘हमारे समय की प्राथमिकताएं अब साफ़-साफ़ दिखाई दे रही हैं। लखीमपुर खीरी में पांच किसानों की मौत की ख़बर पर एक सुपरस्टार के बेटे के ड्रग्स की ख़बर हावी है। कई बार लगता है कि जब देश में हर दल के नेता-समर्थक, बुद्धिजीवी सब मज़े में हैं तो मैं इस सबको देखकर इतना बेचैन क्यों हो जाता हूं।’

इस घटना पर एक्टर मोहम्मद जीशान आयूब ने भी कहा- ‘इस गाड़ी से कुचल के मरने वालों को देख कर भी अगर आपका दिल और दिमाग़, सही ग़लत नहीं बता रहा, तो आप मर चुके हैं! शरीर ज़िंदा होगा, पर आत्मा ख़त्म!’ फिल्म ‘अनारकली ऑफ आरा’ के डायरेक्टर अविनाश दास ने कहा- ‘कोई भी देश अपनी क़िस्मत ख़ुद ही लिखता है। अगर लखीमपुर की घटना के बाद भी बीजेपी को शासन करने का हक़ जनता देती है, तो मान लीजिए कि इस देश का कुछ नहीं हो सकता।’

वरिष्ठ पत्रकार अजीत अंजुम ने कहा- ‘मोदी -योगी राज में किसानों को आतंकवादी, मवाली, देशद्रोही कहे जाने के बाद अब यही होना बाकी रह गया था। सत्ता का गुरूर सिर चढ़कर ऐसे बोल रहा है कि सांसद/मंत्री का बेटा बेलगाम होकर किसानों पर गाड़ी दौड़ा रहा है।’ (लखीमपुर खीरी में हुए हिंसक बवाल के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी रविवार देर रात लखनऊ पहुंची थीं, लेकिन उन्हें सीतापुर के हरगांव में पुलिस ने हिरासत में ले लिया गया था।)

ज्ञात हो, लखीमपुर खीरी में रविवार को किसान आंदोलन स्थल पर हुई हिंसा में 8 लोगों की मौत हो गई। कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को केंद्रीय राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी के काफिले की गाड़ियों ने कथित तौर पर कुचल दिया था। इस दौरान तीन गाड़ियों में आग लगा दी गई है। ये घटना उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के लखीमपुर खीरी दौरे से पहले हुई, जिसमें किसान और भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता, दोनों ही शामिल थे।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट