ताज़ा खबर
 

डिंपल ने जबरन कराया वसीयत पर काका का साइन- राजेश खन्ना की दोस्त अनीता आडवाणी ने लगाए थे आरोप

राजेश खन्ना की करीबी दोस्त अनीता आडवाणी ने काका की मौत के बाद कई गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि राजेश खन्ना से अस्पताल में वसीयत साइन करवाई गई थी। वो भी तब जब उन्हें कुछ समझ ही नहीं आ रहा था।

राजेश खन्ना और डिंपल कपाड़िया (Photo- Indian Express)

बॉलीवुड के पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना आखिरी दिनों में अपने बंगले ‘आशीर्वाद’ में ही ज्यादातर समय बिताया करते थे। राजेश खन्ना और डिंपल कपाड़िया के बीच काफी मतभेद थे। ऐसे में काका के साथ उनकी दोस्त अनीता आडवाणी को आशीर्वाद में स्पॉट किया गया था। राजेश खन्ना जब आखिरी दिनों में अस्पताल में भर्ती हुए थे तो अनीता आडवाणी उनके साथ थीं। एक्टर की मौत के बाद अनीता ने डिंपल और अक्षय कुमार पर कई गंभीर आरोप लगाए थे।

टीवी रियलिटी शो ‘बिग बॉस’ में शामिल होने के बाद अनीता आडवाणी ने एक्टर के परिवार पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। अनीता ने कहा था कि बिग बॉस में स्टेज परफोर्मेंस से पहले उन्हें लंबा इंतजार कराया गया था। ‘ज़ूम’ को दिए इंटरव्यू में अनीता आडवाणी ने कहा था, ‘राजेश खन्ना उस हालत में नहीं थे कि कुछ समझ पाएं। यहां तक कि वह कई चीजों पर तो प्रतिक्रिया ही नहीं दे रहे थे। उस वक्त आप वसीयत साइन करवाएंगे तो क्या वह इतनी बड़ी वसीयत पढ़ पाएंगे।’

अनीता ने लगाए गंभीर आरोप: अनीता आडवाणी ने आगे कहा था, ‘जिस आदमी को कुछ पता ही नहीं है कि चल क्या रहा है। डिंपल और मैं लड़ाई कर रहे थे तो वो कुछ बोल ही नहीं रहे थे क्योंकि उन्हें कुछ समझ नहीं आ रहा था। ऐसे में वसीयत साइन करवाई गई। अगर कोई औरत किसी के साथ रह रही है और आप उसका घर तोड़ रहे हैं तो आप पाप कर रहे हैं। वो व्यक्ति बिल्कुल अकेला था मैंने बस उसका साथ दिया था। अक्षय और टीना के वकील ने मेरे वकील से बात की। वह मामला सेटल करना चाहते हैं।’

कैसे हुई मुलाकात: अनीता आडवाणी ने इसके अलावा बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में राजेश खन्ना से जुड़ी कई बाते साझा की थीं। अनीता ने कहा था, ‘राजेश खन्ना को अकेलेपन से बेहद डर लगता था। मेरी उनसे बहुत छोटी उम्र में मुलाकात हुई थी। मेरे एक परिचित उनकी शूटिंग दिखाने के लिए मुझे ले गए थे। उसके बाद 13 साल की उम्र में मैं महबूब स्टूडियो में उनसे मिली थी। लगातार 8-10 महीने तक उनसे मिलने के बाद मैं जयपुर वापस चली गई थी। 1990-91 में हमारी मुलाकात एक पार्टी के दौरान हुई। इसके बाद साल 2000 में मैं उनके मुंबई स्थित घर आशीर्वाद भी आने लगी थी।’

Next Stories
1 एक्‍टर ने अपनी फोटो के साथ पोस्‍ट क‍िया खुद को ‘लीजेंड दादा साहब फाल्के पुरस्‍कार’ द‍िए जाने की बात, लोग करने लगे ट्रोल
2 ‘अब मेरी जिंदगी ही बदल गई’ जेठालाल के नक्शेकदम पर चल रहीं ये एक्ट्रेस, TMKOC के पोपट लाल से लेकर डॉ हाथी के लिए कही ये बात
3 राजेश खन्ना को सुपरस्टारडम का ढंग आता था, हमें नहीं आता न सीखना चाहते हैं- जब धर्मेंद्र ने कही ये बात
ये पढ़ा क्या?
X