दिग्विजय सिंह ने शेयर किया पंडित नेहरू की तारीफ वाला वीडियो तो कुमार विश्वास बोले- सारी सुना करिए, और भी कुछ कहा है

दिग्विजय सिंह को जवाब देते हुए कुमार विश्वास ने ट्विटर पर लिखा है,’केवल यही नहीं हमने तो ओर भी बहुत कुछ बोला है! सारी सुना करिए सांसद जी।’

Dr Kumar vishvas, Digvijaya Singh, Pandit Nehru
कुमार विश्वास ने दिग्विजय सिंह को ट्विटर पर जवाब दिया है।

मशहूर कवि कुमार विश्वास अपने बेबाक अंदाज के लिए जाने जाते हैं। कुमार विश्वास सोशल मीडिया पर भी बहुत सक्रिय रहते हैं और ज्यादातर मुद्दों पर अपने विचार प्रकट करते हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कुमार विश्वास की एक वीडियो शेयर करते हुए ट्विटर पर लिखा है,’पंडित जवाहरलाल नेहरू को गाली देने वालों ज़रा कुमार विश्वास को भी सुनो।’ दरअसल इस वीडियो में कुमार विश्वास पंडित जवाहरलाल नेहरू की तारीफ कर रहे हैं।

दिग्विजय सिंह के ट्वीट के बाद कुमार विश्वास कहां पीछे रहने वाले थे। दिग्विजय सिंह को जवाब देते हुए कुमार विश्वास ने ट्विटर पर लिखा है,’केवल यही नहीं हमने तो ओर भी बहुत कुछ बोला है! सारी सुना करिए सांसद जी।’ कुमार विश्वास के इस ट्वीट पर यूजर्स की तरह-तरह की प्रतिक्रिया भी सामने आ रही हैं।

सोनू सिंह नाम के एक यूजर ने लिखा है,’कुमार विश्वास जी अब आपको धीरे-धीरे सुनने की आदत बना रहे सांसद जी अगर पहले से आपको सुनते तो शायद आज कांग्रेस पार्टी सत्ता में होती और ये कोई मंत्रालय संभाल रहे होते।’ पार्थ भट्ट नाम के एक यूजर ने लिखा है,’राजनीतिक विचारधारा चाहे जो हो हमारी परंतु पूर्वजों को अपशब्द कहना ना हमारी भारतीय संस्कृति है ना ही परंपरा है । तो पंडित नेहरु को गालियां देने वाले संस्कृति रक्षक तो कहीं से नहीं।’

नितिन तंवर नाम के एक यूजर ने लिखा है,’ कश्मीर समस्या बनाकर फिर पैरवी करवाना कहां की समझदारी है ? दोनों तरफ नावों में पैर रखकर चलोगे, गिर जाओगे कवि जी, एक नाव में बैठ जाओ समय आ गया है।’ श्रीधा नाम की एक ट्विटर यूजर ने लिखा है,’कविराज! सुना है आप कांग्रेस ज्वाइन करने वाले हैं। ये सच है क्या??’

एक अन्य यूजर ने लिखा है,’जो बातें इन्हें खुद बतानी चाहिए वो आपका सहारा लेकर बोल रहे हैं,ये हर पार्टी के साथ है अपने मतलब का एडिट करके चला लेते हैं..समुद्र में से बूंद-बूंद चोरी करके काम चलता रहता है सभी का।’ अमरजीत यादव नाम के एक यूजर ने लिखा है,’गुरु जी,अगर सांसद जी पूरा सुन लेंगे तो उनको हजम ही नहीं होगा। इतना इसलिए सुना रहे हैं ताकि राजनीतिक विचाराधारा भी बनी रहे।’

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट