ताज़ा खबर
 

पद्मावत: दिग्‍गज डिजाइनर का ऐलान- अपनी पूरी टीम को फिल्‍म दिखाऊंगी, ताकत के आगे नहीं झुकूंगी

अभिनेत्री नीना गुप्ता और वेस्ट इंडीज के बल्लेबाज विवियन रिचर्ड्स की बेटी मसाबा गुप्ता इस फिल्म के समर्थन में उतरी हैं। पेशे से फैशन डिजाइनर मसाबा ने कहा है कि वह इस फिल्म का स्वागत करती हैं।

पद्मावत के समर्थन में अभिनेत्री नीना गुप्ता और वेस्ट इंडीज के बल्लेबाज विवियन रिचर्ड्स की बेटी मसाबा गुप्ता ने ट्वीट किया है।

दीपिका पदुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर स्टारर फिल्म ‘पद्मावत’ 25 जनवरी को रिलीज होने जा रही है। देश के कई हिस्सों में इस फिल्म पर बैन के लिए प्रदर्शन किया जा रहा है। वहीं अभिनेत्री नीना गुप्ता और वेस्ट इंडीज के बल्लेबाज विवियन रिचर्ड्स की बेटी मसाबा गुप्ता इस फिल्म के समर्थन में उतरी हैं। पेशे से फैशन डिजाइनर मसाबा ने कहा है कि वह इस फिल्म का स्वागत करती हैं। इसके चलते वह अपनी पूरी टीम के साथ यह फिल्म देखने जाएंगी। वहीं वह किसी ताकत के आगे झुकेंगी नहीं। 28 साल की मिसाबा दीपिका पादुकोण की फिल्म ‘पद्मावत’ के सपोर्ट में उतरी दिखाई दीं। लेकिन कुछ ही देर के बाद फिल्म के पक्ष में किए टवीट डिजाइनर ने डिलीट कर दिए।

जूम की रिपोर्ट के मुताबिक अपने पहले ट्वीट में मसाबा कहती हैं, ‘मैंने डिसाइड किया है कि मैं अपने 75 लोगों की टीम को #पद्मावत दिखाने ले जाऊंगी। हम सब आर्टिस्ट हैं और किसी भी आर्टिस्ट के साथ ऐसी नहीं किया जा सकता। उन्होंने जो काम किया है उसको प्रेजेंट करना वे डिजर्व करते हैं। हमें ऑडियंस बन कर फिल्म को सपोर्ट करने की जरूरत है।’ दूसरे ट्वीट में मसाबा लिखती हैं, ‘मेरे पास फिल्म के लायक करने के लिए कुछ नहीं है। मैं प्रार्थना करती हूं कि इंडिया का यूथ जो नया कल बनाएगा, वह कभी भी अपनी क्रिएटिविटी को दबने नहीं देगा। बहादुरी से शांत रहकर लीड करेगा। वह भी बिना किसी हिंसा के।’

मसाबा के वेडिंग रिसेप्‍शन में पहुंचे शाहिद, सोनम, आलिया और कंगना

बता दें संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावत’ अब तक चार राज्यों में बैन हो चुकी है। राजस्थान, मध्यप्रदेश, हरियाणा और गुजरात में फिल्म को रिलीज नहीं किया जाएगा। खबरें आई थीं कि राजस्थान में फिल्म बैन होने के बावजूद ‘पद्मावत’ को लेकर प्रदर्शन जारी है। वहीं दूसरी तरफ सुप्रीम कोर्ट ने आज (गुरुवार) राज्य सरकारों के फैसले को पलटते हुए फिल्म को देशभर में रिलीज करने का फैसला दिया है। बैन हटाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यह अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का मामला है। फिल्म को रिलीज होने से नहीं रोका जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App