ताज़ा खबर
 

नवाजुद्दीन सिद्दीकी की ‘रामलीला’ पर दीपिका पादुकोण ने दिया ये रिएक्शन

दीपिका ने कहा कि यह बहुत मुश्किल है लेकिन दिन के आखिर में आपको एक आवाज ढूंढनी पड़ती है। आपको ये देखना होता कि आपके अंदर क्या वास्तविक है और क्या वास्तविक नहीं है।
Author नई दिल्ली | October 11, 2016 14:51 pm
दीपिका ने दी समाज को सलाह। Image Source: Instagram

कुछ दिनों पहले ही खबर आई थी कि नवाजुद्दीन सिद्दिकी को एक रामलीला कार्यक्रम से बाहर कर दिया गया है। इस मामले पर अपनी राय देते हुए दीपिका पादुकोण ने कहा कि आज समाज को चाहिए कि वो ज्यादा संवेदनशील और एकजुट होकर रहें। बॉलीवुड के बेहद उम्दा एक्टर में से एक नवाजुद्दीन को उनके गृह नगर बुढाना उत्तर प्रदेश में हो रही रामलीला से बाहर करने की मांग की गई थी। ये मांग शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने की थी। उनके मुस्लिम होने की वजह से उनका विरोध किया जा रहा है। एक टीवी चैनल पर जब दीपिका से इस मामले पर उनकी प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि आज समाज को चाहिए कि वो लोगों और परिस्थितियों को लेकर ज्यादा संवेदनशील और एकजुट होकर रहें। 30 साल की एक्ट्रेस ने यह भी कहा कि एक सेलिब्रिटी होने की वजह से आप अपना नजरिया नहीं रख पाते हैं।

वीडियो: ‘बिग बॉस सीज़न 10’ की पहली मेहमान बनेंगी दीपिका पादुकोण

दीपिका ने कहा कि यह बहुत मुश्किल है लेकिन दिन के आखिर में आपको एक आवाज ढूंढनी पड़ती है। आपको ये देखना होता कि आपके अंदर क्या वास्तविक है और क्या वास्तविक नहीं है। कई बार किसी और के साथ आपकी आवाज गूंजती है और कई बार ऐसा नहीं होता है।

Read Also: डिप्रेशन के जिक्र पर रो पड़ीं दीपिका पादुकोण, कहा- मेरी मां नहीं होती तो मैं यहां नहीं होती

बता दें कि सोमवार को एक कार्यक्रम के दौरान डिप्रेशन के बारे में बात करते वक्‍त रो पड़ीं। रूंधे गले से उन्‍होंने कहा, ”दो साल पहले मेरा परिवार मुझे देखने आया था। वे जाने ही वाले थे और मैं अपने बैडरूम में अकेली थी। मेरी मां आई और पूछा सब ठीक है क्‍या। मैंने कहा, हां। उन्‍होंने फिर पूछा काम या किसी और बात से परेशानी तो नहीं। मैंने कहा नहीं। उन्‍होंने मुझसे कई बार पूछा तो मैं भावुक हो गई और मेरी आंखों में आंसू आ गए।” गालों पर आंसुओं को पोंछते हुए दीपिका ने कहा, ”मैं मां से कहना चाहती थी कि यदि तुम नहीं होती तो मैं यहां नहीं होती। हमेशा मेरा साथ देने के लिए धन्‍यवाद। मेरी बहन, पिता और दोस्‍तों को धन्‍यवाद जिन्‍होंने मेरा खूब साथ दिया।” विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस पर सोमवार को उनकी पहल से बनाए गए ‘लिव लव लॉफ फाउंडेशन’ ने एक देशव्यापी जागरूकता अभियान शुरू किया।

Read Also: रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण की पद्मावती में नजर आएंगे शाहिद कपूर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.