ताज़ा खबर
 

वर्ल्ड चैंपियन किंग कॉन्ग को चटा दी थी धूल, 100 से ज्यादा फिल्में की; ‘हनुमान’ के किरदार से घर-घर चर्चित हो गए थे दारा सिंह

1968 में वे अमरीका के विश्व चैंपियन लाऊ थेज को पराजित कर फ्रीस्टाइल कुश्ती के विश्व चैंपियन बन गये थे। उन्होंने 55 साल की उम्र तक पहलवानी की ...

Dara Singh Birthday Special, DARA Singh, Dara Singh had beaten in Fight A World Champion King Kongtheहनुमान जी के किरदार में दारा सिंह

भारतीय कुश्ती चैंपियन और हिंदी फिल्मों के दिग्गज कलाकार दारा सिंह का आज जन्मदिन है। दारा सिंह ने कुश्ती औऱ फिल्मी करियर में खूब नाम कमाया। 19 नवंबर 1928 को पंजाब में जन्में दारा सिंह अपने जमाने के विश्व प्रसिद्ध फ्रीस्टाइल पहलवान रहे हैं। 1954 में दारा सिंह भारतीय कुश्ती चैंपियन बने। इतना ही नहीं उन्होंने विश्व चैंपियन किंग कॉन्ग को भी पटखनी दी। उन्होंने 1959 में पूर्व विश्व चैंपियन जार्ज गारडियान्का को पराजित करके कामनवेल्थ की विश्व चैंपियनशिप जीती थी।

1968 में वे अमरीका के विश्व चैंपियन लाऊ थेज को पराजित कर फ्रीस्टाइल कुश्ती के विश्व चैंपियन बन गये थे। उन्होंने 55 साल की उम्र तक पहलवानी की और 500 मुकाबलों में किसी एक में भी पराजय का मुंह नहीं देखा। 1983 में उन्होंने अपने जीवन का आखिरी मुकाबला जीता और इसके बाद कुश्ती से संन्यास ले लिया।

दारा सिंह के फिल्मी करियर की बात करें तो उन्हें अपने करियर में करीब 100 फिल्मों में काम किया। साल 1952 में फिल्म संगदिल से उन्होंने अपने करियर की शुरुआत की। 1955 में पहली झलक में काम किया। 1962 में किंग कॉन्ग में नजर आए। फिर ‘लुटेरा’, ‘सिकंदर-ए-आजम’, आनंद, मेरा नाम जोकर, मेरा दोस्त मेरा धर्म, कुंवारा बाप, दुख भंजन तेरा नाम जैसी फिल्मों में काम किया।

दारा सिंह ने टीवी सीरियल्स में भी अपनी खास छाप छोड़ी। रामानंद के टीवी सीरिय़ल रामायण में हनुमान जी का किरदार निभाकर उन्होंने अपने करियर को और बुलंदियों पर पहुंचाया। इस शो में दारा सिंह को हनुमान जी के किरदार में बहुत प्रसिद्धि मिली।

ऐसे में उन्होंने अपनी आत्मकथा भी लिखा। उनकी आत्मकथा पंजाबी में लिखी गई थी जो कि 1993 में हिन्दी में भी प्रकाशित हुई। कुश्ती औऱ फिल्मी करियर के बाद दारा सिंह ने राजनीति में भी हाथ आजमाया। उन्हें अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने राज्य सभा का सदस्य मनोनीत किया गया। दारा सिंह अगस्त 2003 से अगस्त 2009 तक पूरे 6 साल तक राज्य सभा के सांसद रहे।

12 जुलाई 2012 को दारा सिंह ने दुनिया को अलविदा कहा। उन्हें 7 जुलाई को दिल का दौरा पड़ा था जिसके बाद दारा सिंह को मुंबई के धीरू भाई अंबानी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहां उन्होंने अंतिम सांस ली।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 गौरी खान ने की अपने घर की इंटीरियर डिजाइनिंग; शाहरुख खान दे रहे दिल्ली के इस शानदार घर में किन्हीं दो फैन्स को आने का मौका!
2 ‘सूरज पे मंगल भारी’ एक्ट्रेस फातिमा सना शेख़ को नहीं करनी है शादी, बोलीं- मुझे शादी में इंटरेस्ट नहीं
3 ‘मुझे इसलिए रिप्लेस किया गया क्योंकि हीरो की पत्नी ..’ रिजेक्शन पर बोलीं Taapsee Pannu, अब ऐसे चुनती हैं फिल्में
यह पढ़ा क्या?
X