क्या आप ताज महल का नाम भी ‘राम महल’ कर देंगे? योगी आदित्यनाथ से पूछा सवाल तो मिला था ऐसा जवाब

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से एक इंटरव्यू के दौरान ताज महल का नाम बदलने को लेकर सवाल किया गया था। इसके जवाब में उन्होंने कुछ ऐसा कहा था।

UP BJP, Announces 6 Yatras In Uttar Pradesh, UP State Polls, After Prime Minister Visit, Priyanka Gandhi
यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव नज़दीक आने के साथ-साथ सियासी हलचल भी तेज होती जा रही है। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काशी विश्वनाथ पहुंचे थे। साथ ही उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यों का निरीक्षण भी किया था। इस पूरी यात्रा के दौरान उनके साथ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी नज़र आए थे। पीएम मोदी के दो दिवसीय दौरे को लेकर अखिलेश यादव की एक टिप्पणी भी काफी चर्चा में रही।

बीजेपी नेताओं ने अखिलेश यादव पर पलटवार करते हुए कहा था कि उन्होंने प्रधानमंत्री का अपमान किया है। अखिलेश ने सफाई देते हुए कहा कि मैं योगी सरकार के खात्मे की बात कर रहा था। सियासी घमासान के बीच सीएम योगी आदित्यनाथ का ‘इंडिया टीवी’ के साथ एक पुराना इंटरव्यू वायरल हो रहा है। इस इंटरव्यू में योगी आदित्यनाथ से सवाल पूछा गया था, ‘अगर आपकी सोच विदेशी नामों को बदलने की है तो आप तो ताज महल का नाम बदलकर राम महल भी कर देंगे?’

इसके जवाब में योगी आदित्यनाथ ने कहा था, ‘अगर किसी विदेशी आक्रांताओं के द्वारा किसी काल खंड में ऐसा कार्य किया गया है तो उसको तुरंत बदला जाना चाहिए। क्योंकि ये देश की सांस्कृतिक आजादी की लड़ाई भी है। इस देश की पहचान जिससे होनी चाहिए, उसी के नाम पर ऐतिहासिक जगहों के नाम भी होने चाहिए। जहां तक ताज महल की बात है तो हम उसका नाम राम महल क्यों नहीं करेंगे? अगर आवश्यकता होगी तो उसका भी नाम जरूर बदला जाएगा। शाहजहां ने ताज महल मुमताज के लिए बनवाया या नहीं, ये तो जांच का विषय है।’

योगी आदित्यनाथ आगे कहते हैं, ‘ऐसी कोई विरासत नहीं है जो हमें ऐसे नाम दे गई है। जो भी चीजें देश के हित में होंगी, हमें वो कदम तुरंत उठाना चाहिए। ऐसे कदम उठाते समय हमें बिल्कुल सोचना भी नहीं चाहिए। हमें ऐसे कदम उठाने में बिल्कुल सोचना भी नहीं चाहिए। आप गोरखपुर आएंगे तो देखेंगे कि जब कोई मुस्लिम पीड़ित होता है तो वो कहीं और नहीं जाता है, वो मेरे पास ही आता है। अखिलेश सरकार से भी जो पीड़ित होता है वो मेरे ही पास आता है। मैं जनता के लिए समय निकालता हूं।’

किसानों का कर्ज कैसे माफ करेंगे? इसके जवाब में उन्होंने कहा था, ‘हम लोगों ने बहुत सारी चीजों को संतुलित भी किया था। पिछली सरकार में जिन चीजों पर सबसे ज्यादा खर्च किया जाता था, हम लोगों ने ऐसी सभी चीजों पर रोक लगाने का काम किया था। पहले मंत्री और अधिकारी विदेश घूमने के लिए जाया करते थे, लेकिन हमने इन सभी चीजों पर तुरंत रोक लगा दी। हमने कहा कि आप लोग अपने-अपने क्षेत्र में जाइये और अपने क्षेत्र की समस्याओं को दूर करने का काम करिये।’

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X