ताज़ा खबर
 

चंद्रशेखर आजाद की बायोपिक बनाएगा बांबे टाकीज, 60 साल बाद फिर शुरू हुआ प्रोडक्शन हाउस

भारतीय सिनेमा का मशहूर बांबे टॉकीज छह दशक के लंबे अंतराल के बाद फिर खुलने वाला है। यह प्रोडक्शन हाउस स्वतंत्रता सेनानी चंद्रशेखर आजाद पर बायोपिक बनाने की तैयारी में जुट गया है।

Author नई दिल्ली | Published on: January 22, 2017 5:23 PM
इंडियाज स्ट्रगल फॉर इंडिपेंडेंस’ के अध्याय-20 में भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, सूर्य सेन और अन्य को ‘क्रांतिकारी आतंकवादी’ कहा गया है।

भारतीय सिनेमा का मशहूर बांबे टॉकीज छह दशक के लंबे अंतराल के बाद फिर खुलने वाला है। यह प्रोडक्शन हाउस स्वतंत्रता सेनानी चंद्रशेखर आजाद पर बायोपिक बनाने की तैयारी में जुट गया है। इस स्टूडियो के मुख्य संचालन अधिकारी डॉ. मनोज दुबे ने बताया कि फिल्मकार हिमांशु राय और महान अभिनेत्री देविका रानी द्वारा 1934 में स्थापित यह स्टूडियो ‘राष्ट्रपुत्र: द कमांडर ऑफ सर्जिकल स्ट्राइक्स’ नामक बायोपिक लेकर आ रहा है। बांबे टॉकीज नाम से लोकप्रिय स्टूडियो 1954 में बद हो गया था।

दुबे बांबे टॉकीज के सह मालिक राजनारायण दुबे के परिवार के सदस्य हैं। राजनारायण दुबे स्टूडियो के संस्थापक सदस्यों में एक थे। स्वतंत्रता से पहले के दौर में इस स्टूडियो में अंतरराष्ट्रीय स्टूडियो की तर्ज पर साउंड और इकोप्रूफ मंच, प्रयोगशालाएं, संपादन कक्ष और समीक्षा थियेटर जैसी सुविधाएं थीं। मनोज दुबे के अनुसार आजाद द्वारा निर्देशित यह बायोपिक हिंदी के अलावा अंग्रेजी, तमिल, तेलुगु और पंजाबी में बना है और मार्च तक देशभर में यह रिलीज होने वाली है (आजाद के निर्देशन वाली यह पहली फिल्म है)। इस फिल्म की शूटिंग इलाहाबाद, झांसी, दिल्ली में हुई है जहां चंद्रशेखर आजाद ने स्वतंत्रता की लड़ाई लड़ी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 NBA में खेलने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी सतनाम सिंह ने कहा- अभिषेक बच्चन करें मेरी बायोपिक
2 रणवीर सिंह की तरह दिखने वाले इस पाकिस्तानी शख्स को आपने देखा क्या?
3 ट्विटर पर आलिया भट्ट के हुए 10 मिलियन फॉलोवर्स, ट्वीट कर दिया प्यारा मैसेज
जस्‍ट नाउ
X