ताज़ा खबर
 

‘संजू’ की बुराई सुन भड़के ऋषि कपूर, सोशल मीडिया पर कहे अपशब्द

रणबीर कपूर के फैन्स को ये बात रास नहीं आई कि वह संजय दत्त को पर्दे पर जिएं। हालांकि रणबीर के सबसे बड़े आलोचक उनके पिता ऋषि कपूर खुद हैं। फिर भी जब रणबीर के फैन ने उन्हें ये सलाह दी तो ऋषि कपूर ने सीमा से परे जाकर उसे अपशब्द कहे।

बॉलीवुड अभिनेता ऋषि कपूर।

बॉलीवुड के सिनेमा प्रेमियों के बीच में इस वक्त राजकुमार हिरानी की फिल्म ‘संजू’ खासी चर्चा बटोर रही है। ये फिल्म, अभिनेता संजय दत्त की जिंदगी पर बनी है, इसमें संजय दत्त का किरदार रनबीर कपूर ने निभाया है। ये फिल्म अभिनेता संजय दत्त की जिन्दगी के हर उतार—चढ़ाव को दिखाती है। रणबीर कपूर ने इस फिल्म में संजय दत्त के किरदार को बखूबी जिया है, इसकी झलक फिल्म के ट्रेलर को देखकर समझी जा सकती है। लेकिन रणबीर कपूर के बहुत सारे फैन्स को ये बात रास नहीं आई है कि वह संजय दत्त को पर्दे पर जिएं। क्योंकि संजय दत्त की छवि बेहद विवादित रही है। हालांकि रणबीर के सबसे बड़े आलोचक उनके पिता ऋषि कपूर खुद हैं। फिर भी जब रणबीर के फैन ने उन्हें ये किरदार अदा न करने की सलाह दी तो ऋषि कपूर ने सीमा से परे जाकर उसे अपशब्द कहे।

ट्विटर यूजर @ClassicFergie ने हाल ही में संजू फिल्म के ट्रेलर आने के बाद अपनी राय जाहिर की ​थी। यूजर ने ऐसी फिल्म बनाने के लिए राजकुमार हिरानी की आलोचना भी की थी। हालांकि ये ट्वीट बाद में डिलीट कर दिया गया, लेकिन तब तक ये बात ऋषि कपूर जैसे कई लोगों को चुभ चुकी थी। ऋषि कपूर ने अपनी राय जाहिर करने के लिए ट्विटर यूजर पर जमकर भड़ास निकाली। सार्वजनिक ट्वीट करने की बजाय उन्होंने उसे मैसेज भेजा।

ट्विटर यूजर के द्वारा किया गया ट्वीट जिसे बाद में हटा दिया गया। फोटो-Twitter (स्‍क्रीनशॉट)

ऋषि कपूर ने लिखा,”तकलीफ देने वाले, तुम सिनेमा के बारे में जानते ही क्या हो? हम मनोरंजन की दुनिया में किसी की छवि को सुधारने के लिए नहीं हैं। तुम जैसी बुरी सोच रखने वाले फिल्म देखने के लायक भी नहीं हो।” ये पहली बार नहीं है जब ऋषि कपूर ने अपने आपे से बाहर होकर बातें की हों। कई बार उन्होंने आॅनलाइन लोगों को गालियां दी हैं।

हालांकि स्टैंड अप कॉमेडियन अदिति मित्तल ने ऋषि कपूर के बुरे बर्ताव से नाराज होकर कई सिलसिलेवार ट्वीट किए। उन्होंने लिखा,”ऋषि कपूर लगातार लोगों को आॅनलाइन गालियां देते रहते हैं। हर न्यूज और मनोरंजन पोर्टल् लगातार उनकी फिल्मों और इंटरव्यू को कवर करता रहता है। क्या इस तरह के बर्ताव को सामान्य कहा जाना चाहिए?”

​अपने अगले ट्वीट में अदिति मित्तल ने लिखा,” फिल्में विषयों पर बनती हैं। शायद इसीलिए उन्हें कई तरीकों से बयान किया जा सकता है। इसलिए, लोगों को एक दूसरे से गाली—गलौज नहीं करनी चाहिए क्योंकि इससे कोई हल नहीं​ निकलेगा। और जब से एक—दूसरे को धमकाने पर आ जाए फिर चाहें वह वास्तविक जीवन में हो या फिर आॅनलाइन हो, इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App