अमेरिका पहुंचे कैलाशा, सिलिकॉन वैली में दिखाएंगे सूफिज्म का जलवा... - Jansatta
ताज़ा खबर
 

अमेरिका पहुंचे कैलाशा, सिलिकॉन वैली में दिखाएंगे सूफिज्म का जलवा…

अल्लाह के बंदे', 'तेरी दीवानी', सैंया, तौबा-तौबा 'रंग दीनी', 'सैंया....' जैसे दिल को छू जाने वाले सूफी गानों को आवाज देने वाले की आवाज अब अमेरिका में गूंजने को तैयार है..

Author नई दिल्ली | September 26, 2015 2:20 PM

अल्लाह के बंदे’, ‘तेरी दीवानी’, सैंया, तौबा-तौबा ‘रंग दीनी’, ‘सैंया….’ जैसे दिल को छू जाने वाले सूफी गानों को आवाज देने वाले की आवाज अब अमेरिका में गूंजने को तैयार है, लिहाजा वे पीएम मोदी के गर्मजोशी के वेलकम के लिए अमेरिका पहुंच चुके हैं। फिल्म इंडस्ट्री में सूफी गानों के जरिए अपनी अलग बनाने वाले कैलाश खेर अब दुनिया में अपनी आवाज का जादू बिखरने जा रहे हैं।

27 सितंबर को अमेरिका की सिलिकॉन वैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ग्रैंड रिसेप्शन में कैलाश खेर अपने बैंड ‘कैलाशा’ के साथ लाइव परफॉर्म करेंगे।

कैलाश खेर ने भले ही अपनी गायिकी से आज अलग मुकाम हासिल कर लिया हो, लेकिन उनकी इस कामयाबी के पीछे कठिन संघर्ष छिपा हुआ है।

इंडस्ट्री में पहचान बनाना इतना आसान नहीं था। यहां तक पहुंचने के लिए उन्हें बेहद कड़ी मेहनत करनी पड़ी, लिहाजा अपने संघर्ष के बाद वह आज दुनिया के हर हिस्से में लोकप्रिय हो चुके हैं। उन्होंने अब तक बॉलीवुड में 5,000 से अधिक गीत गा चुके, उन्होंने पिछले 10 सालों में 1,000 से ज्यादा प्रस्तुतियां दी हैं।

सिलिकॉल वैली में आयोजित होने वाला यह कार्यक्रम सैप सेंटर में होगा। भारतीय लोक संगीत से प्रभावित लोकप्रिय पॉप रॉक गायक ने सैन जोस में 27 सितंबर को अपने लाइव कार्यक्रम से पहले एक वीडियो संदेश में कहा, ‘हेलो बे एरिया सिलिकॉन वैली …. कैलाश खेर एक बार फिर आपके सामने है।

सामुदायिक स्वागत करने के लिए मैं अपने बैंड के साथ आ रहा हूं,’ 42 वर्षीय सूफी गायक उन ब्रैंड एंबैस्डरों में से एक हैं जिन्हें मोदी ने अपने स्वच्छ भारत अभियान के लिए नामित किया है।

लिहाजा अब वह भी इस अभियान का हिस्सा बन चुके हैँ। कैलाशा के लिए यह परफोर्म बेहद अहमियत रखने वाला है, यह उनके लिए एक बड़ी उपलब्धि भी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App