ताज़ा खबर
 

सुशांत सिंह राजपूत ने कहा रणवीर सिंह की बेफिक्रे मुझे ऑफर की जाती तो नहीं करता, वजह भी बताई

सुशांत ने कहा कि अगर बेफिक्रे में आज के युवा वर्ग से जुड़े मुद्दे दिखाए जाते तो शायद यह फिल्म बॉक्स आॅफिस पर अच्छा प्रदर्शन कर पाती।

सुशांत सिंह ने यह कहा कि बेफिक्रे का आॅफर ही नहीं मिला अगर मिलता भी तो भी वह इस फिल्म को नहीं करते।

बॉलीवुड गॉसिप गलियारों में यह चर्चा चल रही है के रणवीर सिंह स्टारर फिल्म बेफिक्रे पहले एक्टर सुशांत सिंह राजपूत को आॅफर हुई थी। वहीं इन अफवाहों का खंडन करते हुए सुशांत राजपूत ने कहा कि उन्हें इस फिल्म का आॅफर मिलता भी तो भी यह फिल्म नहीं करते। बता दें कि एक्टर रणवीर सिंह और वानी कपूर अभिनीत फिल्म बेफिक्रे बॉक्स आॅफिस पर कमाल नहीं दिखा पाई। मीडिया से बातचीत करते हुए सुशांत सिंह ने यह कहा कि पहले तो उन्हें बेफिक्रे का आॅफर ही नहीं मिला अगर मिलता भी तो भी वह इस फिल्म को नहीं करते।

सुशांत ने कहा कि अगर यह बैनर उन्हें डिटेक्टिव ब्योम केश बक्शी जैसी फिल्म आॅफर करता तो वह उस फिल्म को जरूर करते। डायरेक्टर दिबाकर बनर्जी ओल्ड क्लासिक फिल्म के लिए जाने जाते है। डिटेक्टिव ब्योमकेश बक्शी साल 2105 में आई थी जिसमें सुशांत सिंह राजपूत ने ब्योमकेश बक्शी का किरदार निभाया था। इसके अलावा उन्होंने शेखर कपूर की पानी की तारीफ करते हुए कहा कि वह वैसी फिल्म करते पानी में उन्होंने काफी अहम मुद्दे उठाए है।

सुशांत ने कहा कि अगर बेफिक्रे में आज के युवा वर्ग से जुड़े मुद्दे दिखाए जाते तो शायद यह फिल्म बॉक्स आॅफिस पर अच्छा प्रदर्शन कर पाती। लेकिन ऐसा नहीं हो पायाए उन्होंने कहा कि वह यह सुझाव नहीं दे रहे है कि फिल्मों में सच्चाई ही दिखाई जाए जैसे कि पिंक, नीरजा और एमएस धोनी में दिखाई गई है।

जंगल बुक जैसी काल्पनिक फिल्म भी काफी लोकप्रिय हुई थी। सबसे पहले तो यह जानने की जरूरत है कि आप क्या बना रहे हैं। भारत में यह जानने की जरूर है कि अच्छी फिल्मों के जरिए हम हिट फिल्मों के साथ उस गैप को भर सकते हैं। एक्टर सुशांत राजपूत नीरज पांडे की बायोपिक फिल्म एमएस धोनी में नजर आए थे। फिलहाल वह फिल्म राबता की शूटिंग में बिजी है, इस फिल्म उनके साथ कीर्ति सैनन नजर आएंगी।

 

वीडियो: रजत कपूर द्वारा आलोचना किए जाने का सुशांत सिंह राजपूत ने दिया करारा जवाब; कहा- ‘मेरे ज़्यादा फैंस नहीं है’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App