ताज़ा खबर
 

प्रियंका चोपड़ा से पूछा- विदेश की बजाए भारत के गांवों की मदद क्‍यों नहीं करतीं? मिला ये जवाब

बॉलीवुड एक्ट्रेस और वर्तमान में यूनिसेफ (UNICEF) की ग्लोबल गुडविल एंबेसडर प्रियंका चोपड़ा इंस्टाग्राम पर शेयर किए वीडियो की वजह से यूजर्स के निशाने पर आ गई हैं।

जॉर्डन में बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा। (फोटो सोर्स प्रियंका चोपड़ा इंस्टाग्राम)

बॉलीवुड एक्ट्रेस और वर्तमान में यूनिसेफ (UNICEF) की ग्लोबल गुडविल एंबेसडर प्रियंका चोपड़ा इंस्टाग्राम पर शेयर किए वीडियो की वजह से यूजर्स के निशाने पर आ गई हैं। प्रियंका चोपड़ा यूनिसेफ प्रोग्राम के तहत जॉर्डन में सीरियन बच्चों को शिक्षा के प्रति जागरुक करने के लिए पहुंची थीं। जहां उन्होंने अध्यापक के रूप में बच्चों के साथ कुछ वक्त बिताया और अंग्रेजी से जुड़े शब्द बच्चों को बताए। इसका वीडियो बॉलीवुड एक्ट्रेस ने इंस्टाग्राम पर शेयर किया। जिसपर यूजर्स ने उनके दोहरे रवैए के लिए उनपर ताना मारा। एक यूजर्स ने लिखा कि प्रियंका ये सब भारत के ग्रामीण इलाकों में करतीं जहां कुपोषित बच्चे भोजन का इंतजार कर रहे हैं। जिसपर प्रियंका ने शख्स को जवाब देते हुए कहा, ‘मैंने यूनिसेफ के साथ 12 साल भारत में काम किया है। जॉर्डन की तरह कई इलाकों में जाकर भारतीय बच्चों से मिली हूं।’ निर्माता-निर्देश रवींद्र गौतम ने प्रियंका से पूछा कि क्यों उन्होंने पहले अपने देश के लोगों की मदद नहीं की? जिसका जवाब देते हुए प्रियंका पूछती हैं कि आपने क्या किया हैं? एक बच्चे की समस्या दूसरे बच्चें की समस्या से कम महत्वपूर्ण क्यों है?

गौरतलब है कि साल 2011 में सीरियन गृहयुद्ध के बाद से वहां के हालात अभी तक सामान्य नहीं हो पाए हैं। तब हुए गृहयुद्ध में हजारों परिवारों की हत्या कर दी गई। सैकड़ों परिवारों को अपना घर छोड़ना पड़ा। जान बचाकर भागे ये लोग अब जॉर्डन की तरह दूसरे देशों में प्रवासी लोगों की जिंदगी गुजार रहे हैं। जानकारी के लिए बता दें कि वर्तमान में यूनिसेफ ग्लोबल गुडविल एंबेसडर प्रियंका चोपड़ा चाइल्ड राइट्स के लिए काम कर रही हैं। कई सारे अवार्ड्स जीत चुकीं प्रियंका ने अमरीकी टीवी शो क्वांटिको से काफी शोहरत पाई और हाल के दिनों आई उनकी उनकी पहली हॉलीवुड फिल्म बेवॉच ने दुनियाभर में धमाल मचा दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App