ताज़ा खबर
 

कंगना ने कहा बी-ग्रेड एक्ट्रेस तो भड़क उठीं तापसी, बोलीं- निजी बदले के लिए किसी की मौत का फायदा नहीं उठाती

तापसी ने कड़ा एतराज जाहिर किया। वह बोलीं कंगना और उनकी बहन रंगोली उनके कड़ी मेहनत को क्रेडिट नहीं दे रही हैं और बेवजह उनके नाम को तूल देना परेशान करने वाली बात है। तापसी ने भी सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले को लेकर कंगना पर तंज कसा और कहा कि वे निजी बदले के लिए किसी की मौत का फायदा नहीं उठातीं।

तापसी पन्नू और कंगना रनोट के नेपोटिज्म पर बयान से इंडस्ट्री में तमाम तरह की चर्चाएं हैं।

बॉलीवुड में कलाकारों में आपसी प्रतिद्वंद्विता आम बात है। फिल्मी सितारे अक्सर एक-दूसरे पर कमेंट करते रहते हैं। कई बार यह सिर्फ मनोरंजन तक ही सीमित रहता है तो कई बार लाइमलाइट में आने का भी जरिया होता है। ताजा विवाद तापसी पन्नू और कंगना रनोट के बयानों पर है। हाल ही में कंगना रनोट ने कथित रूप से तापसी को बी- ग्रेड एक्ट्रेस कह दिया। इस पर तापसी का गुस्सा होना लाजिमी था। हुआ भी यही।

इस पर उन्होंने कड़ा एतराज जाहिर किया। वह बोलीं कंगना और उनकी बहन रंगोली उनके कड़ी मेहनत को क्रेडिट नहीं दे रही हैं और बेवजह उनके नाम को तूल देना परेशान करने वाली बात है। तापसी ने भी सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले को लेकर कंगना पर तंज कसा और कहा कि वे निजी बदले के लिए किसी की मौत का फायदा नहीं उठातीं।

मुद्दा तब उठा जब एक अंग्रेजी न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कंगना ने तापसी पन्नू और स्वरा भास्कर को बी-ग्रेड एक्ट्रेस बताया। कहा था, “मुझे यहां (बॉलीवुड में) रहने में घाटा ही है। क्योंकि उन्हें (मूवी माफिया) कल तापसी पन्नू और स्वरा भास्कर जैसी 20 और जरूरतमंद आउटसाइडर्स मिल जाएंगी, जो कहेंगी सिर्फ कंगना को नेपोटिज्म से दिक्कत है, लेकिन हम करन जौहर से प्यार करते हैं। अगर आप करन जौहर से प्यार करती हैं तो फिर आप दोनों बी-ग्रेड एक्ट्रेस क्यों हो? आप आलिया भट्ट और अनन्या पांडे से बेहतर दिखती हो। दोनों बहुत अच्छी एक्ट्रेस हो। आपको काम क्यों नहीं मिलता? आपकी पूरी मौजूदगी नेपोटिज्म का सबूत है।”

जवाब में तापसी ने कहा “यह देखकर दुख होता है कि कोई उस इंडस्ट्री में बाहरी लोगों का मजाक उड़ा रहा है, जिसने हमें बहुत कुछ दिया है। उन पैरेंट्स के बारे में सोचिए, जिनके बच्चे यहां हैं। वे हमारे बारे में क्या सोचते होंगे? जैसे कि हम बुरे लोग है और बाहरी लोगों को खाने के लिए बैठे हैं।”

नेपोटिज्म का मुद्दा उठने के बाद चर्चा का विषय बने करन जौहर को लेकर भी विवाद है। तापसी ने एक इंटरव्यु में कहा, “मैंने कहीं यह नहीं कहा कि मैं करन जौहर को पसंद करती हूं। लेकिन मैंने कभी यह भी नहीं कहा कि मैं उनसे नफरत करती हूं। फैक्ट यह है कि आप उससे नफरत नहीं करते, जिससे कंगना करती है। मुझे नहीं लगता कि मैं करन को हाय, हैलो से ज्यादा जानती हूं। इसलिए यह लॉजिकल कैसे हुआ?”

कंगना ने  कहा था कि तापसी के पास कोई काम नहीं है। वह खाली बैठी हैं। इस पर प्रतिक्रिया देती हुए तापसी ने कहा था कि वे साल में कम से कम चार फिल्में करती हैं। बताया  कि उनकी कई फिल्मों की घोषणा हो चुकी है। तापसी ने स्वीकारा कि उन्हें कई बार फिल्मों से निकाल दिया गया और उनकी जगह स्टार कलाकारों के बच्चों को ले लिया गया। लेकिन कंगना को यह दिखाई दिया और यह नहीं दिखाई दिया कि मैं कड़ी मेहनत करती हूं। मुझे इसका श्रेय न देना खिलाड़ियों के आत्मसम्मान को चोट पहुंचाना है।”

तापसी  का कहना है कि वह टारगेट इसलिए बनाई जा रही हैं क्योंकि वह किसी एक का पक्ष नहीं ले रही हैं। वह इंडस्ट्री से बाहरी लोगों के लिए आवाज नहीं उठाती हैं। कहा कि वह किसी से बदला लेने के लिए किसी की मौत को हथियार नहीं बनाती हैं। कहा कि इस इंडस्ट्री ने हमें नाम, पहचान और रोटी दी है। मैं इसका मजाक नहीं उड़ा सकती हूं। बहरहाल कंगना रनोट और तापसी पन्नू का यह विवाद चर्चा का विषय बना हुआ है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मां चाहती थीं बेटी बने IAS लेकिन परिवार से बगावत कर फिल्मों में चली आईं नीना गुप्ता, जानिए पूरी कहानी
2 बिहार में बढ़ते कोरोना मामलों पर बोलीं स्वरा भास्कर- ‘सिर्फ लॉकडाउन से काम नहीं चलेगा’, आईं ट्रोल्स के निशाने पर
3 जब बचपन में अमिताभ बच्चन ने पिता से मांगे गन को इस वजह से नहीं लगाया कभी हाथ, जानिए पूरा किस्सा
IPL 2020: LIVE
X