ताज़ा खबर
 

आमने-सामने: ‘जीरो’ से ही जीवन की शुरुआत : अनुष्का

अभिनेत्री अनुष्का शर्मा आनंद एल राय निर्देशित शाहरुख खान और कैटरीना कैफ अभिनीत जीरो में अहम भूमिका निभा रही हैं जो कि ना सिर्फ एक भयानक बीमारी से ग्रस्त हैं बल्कि नासा की विज्ञानी भी हैं। यह फिल्म खूबसूरत रोमांटिक त्रिकोणीय प्रेम कहानी है। अनुष्का यह किरदार निभा कर कैसा महसूस कर रही हैं? इसके लिए उन्होंने क्या खास तैयारी की है? पेश है बातचीत...

Author December 7, 2018 6:42 AM
विराट कोहली संग अनुष्का। (पीटीआई फाइल फोटो)

आरती सक्सेना

सवाल : आप अपनी फिल्म जीरो पर क्या कहेंगी? जीरो में ढेरों खूबियां हैं। इस फिल्म की कहानी अलहदा है। मेरा रोल कुछ ऐसा है जो मैंने कभी नहीं किया। जीरो में मेरा किरदार बहुत ही बहुत ही चुनौतीपूर्ण है। फिल्म में मेरे पसंदीदा शाहरुख खान और खास दोस्त कैटरीना कैफ हैं। सवाल : जीरो में आप किस तरह की भूमिका कर रही हैं? मैं एक ऐसी विकलांग लड़की बनी हूं जो सेरेब्रल पाल्सी नामक बीमारी से ग्रस्त है। वह वील चेअर पर है। उसे बात करने में उसकी मांसपेशियां उसका साथ नहीं देती हैं। इसके बावजूद वह बेहद बुद्धिमान है और नासा में विज्ञानी है। इस लड़की को कम कद के एक लड़के से प्यार हो जाता है। यह किरदार चुनौतीपूर्ण है। इसलिए जब आंनद एल राय ने मुझे यह रोल दिया तो मैंने तुरंत हां कर दी। सवाल : अपने किरदार के लिए क्या कोई खास तैयारी की? इस किरदार को निभाने के लिए मैंने इस बीमारी पर पूरी जानकारी लेने की कोशिश की। इस दौरान मैं विशेषज्ञ चिकित्सकों से मिली। इस पर मैंने काफी काम किया। हम कलाकारों का एक मकसद यह भी होता है कि हम अपने अभिनय से समाज के लोगों को इस बीमारी को लेकर जागरूक कर सकें ताकि परेशान लोगों का सही ढंग से इलाज हो सके।

सवाल : शाहरुख खान के साथ आपकी यह चौथी फिल्म है। पहली फिल्म रब ने बना दी जोड़ी, उसके बाद जब तक है जान और फिर हैरी मेट सेजल की। एक ही अभिनेता के साथ चार फिल्म करने का अनुभव कितना प्रभाव डालता है?
इसका बहुत प्रभाव पड़ता है। शाहरुख उन अभिनेताओं में से हैंै जिनके साथ काम करना हमेशा मजेदार होता है। जब मैंने उनके साथ पहली फिल्म रब ने बना दी… में काम किया तब भी मुझे नहीं लगा था कि मैं किसी बड़े सितारे के साथ काम कर रही हूं। वे इतने ज्यादा सामान्य और सहज हैं कि सेट का माहौल कितना भी तनाव वाला हो, उसे वे हल्का फुल्का बना देते हैं।

सवाल : हर इंसान की जिंदगी में उतार-चढ़ाव आते हैं। आपकी भी जिंदगी में निश्चित ही ऐसा हुआ होगा कि आपकी भी कुछ फिल्में फ्लाप हुई हैं। ऐसे में क्या कभी आपने अपने आप को जीरो समझा? क्या कभी आप निराश हुर्इं?
मेरे अंदर यही एक खास बात है कि मैं चाहे कितनी ही मुश्किल में रहूं लेकिन मैं निराशा को अपने पास फटकने नहीं देती। और न ही कभी अपने आप को जीरो समझती हूं। मैं हर हाल में पूरी तरह सकारात्मक हूं। मेरा मानना है जीरो अर्थात शून्य जीवन का अंत नहीं शुरुआत है।

सवाल : बॉलीवुड में आपका सबसे अच्छा दोस्त कौन हैं और क्यों?
ऐसे तो इंडस्ट्री में मेरे कई सारे दोस्त हैं। लेकिन सबसे अच्छे दोस्त की बात करें तो कैटरीना कैफ मेरीे सबसे अच्छीे दोस्त हैं क्योंकि वे दिल की साफ हैं। दिखावा नहीं करतीं। जो मन में है वह जुबां पर है। वे बहुत ही सभ्य हैं। कई बार वे अच्छी सलाह भी देती हैं। अगर संपूर्ण तरीके से कहें तो उनमें एक अच्छी दोस्त होने के सारे गुण मौजूद हैं। मंैने उनके साथ इससे पहले जब तक है जान में भी काम किया। उस दौरान हमने काफी एन्जॉय किया। अब एक बार फिर हम साथ में जीरो कर रहे हैं। इस दौरान भी शूटिंग में हमने काफी मस्ती-मजाक किया।

सवाल : क्रिकेटर विराट कोहली और आपकी जोड़ी सच में रब ने ही बनाई है। आपकी जिंदगी कैसी गुजर रही है?
बहुत अच्छी। बस इतना ही है कि हम दोनों ही चूंकि अपने काम के प्रति पूरी तरह समर्पित हैं लिहाजा एन्जॉय करने को समय कम ही मिल पाता है। हम दोनों ही एक दूसरे के काम मे दखलअंदाजी नहीं करते। वे न तो मुझे फिल्मों को लेकर कुछ बोलते हैं ओर न मैं उनसे क्रिकेट से संबंधित कोई बात करती हूं। हम जब भी मिलते हैं हमारे बीच अपनी ही बातें होती हैं। हमारे पास अपनी बातें करने के लिए समय कम पड़ता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App